आर्थिक संकट को लेकर चिदंबरम ने पूछा- प्रधानमंत्री कब स्वीकारेंगे प्रबंधन की विफलता
आर्थिक संकट को लेकर चिदंबरम ने पूछा- प्रधानमंत्री कब स्वीकारेंगे प्रबंधन की विफलता
देश

आर्थिक संकट को लेकर चिदंबरम ने पूछा- प्रधानमंत्री कब स्वीकारेंगे प्रबंधन की विफलता

news

नई दिल्ली, 30 जुलाई (हि.स.)। पूर्व वित्तमंत्री एवं कांग्रेस नेता पी. चिदंबरम ने देश की खस्ताहाल अर्थव्यवस्था को लेकर केंद्र की मोदी सरकार पर निशाना साधा है। उन्होंने कहा कि आखिर सरकार कब मानेगी कि देश के आर्थिक पहलू को लेकर उससे चूक हुई है। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी को स्वीकार करना चाहिए कि उनके आर्थिक प्रबंधक वर्तमान में गिरती अर्थव्यवस्था को संभालने में नाकाम रहे हैं। पी. चिदंबरम ने गुरुवार को ट्वीट कर देश में लगातार बिगड़ती आर्थिक हालात को लेकर मोदी सरकार पर हमला बोला। उन्होंने कहा कि देश में गहराते आर्थिक संकट की गंभीरता को भाजपा सरकार कब स्वीकार करेगी? प्रधानमंत्री कब अपनी और अपने आर्थिक प्रबंधकों की विफलता को स्वीकार करेंगे? चिदंबरम ने कहा कि क्या सरकार को यह एहसास होगा कि हमारी एक बड़ी दूरसंचार कंपनी बर्बादी के कगार पर है और सरकार के पास संघर्षरत दूरसंचार उद्योग को बचाने की कोई योजना नहीं है? इसी प्रकार विमानन उद्योग को बड़े पैमाने पर हो रहे नुकसान का सरकार को आभास है! कई बड़ी विमानन कंपनियां एयर इंडिया की राह पर जा रही हैं। उन्होंने पूछा, आखिर कब सरकार एक बचाव योजना के साथ आगे आएगी? कांग्रेस नेता ने एक अन्य ट्वीट में कहा कि पिछले 12 महीनों में लाखों लोगों ने नौकरी या आजीविका खो दी है। ऐसे में दो प्रमुख उद्योगों टेलीकॉम और एविएशन के पतन का प्रभाव कई और प्रत्यक्ष व अप्रत्यक्ष नौकरियों पर पड़ेगा। जाने कितने ही लोग बेरोजगार होंगे। सवाल उठता है कि क्या सरकार लोगों की आजीविका को लेकर विचार कर रही है। अगर नहीं तो फिर सरकार किस तरीके से आत्मनिर्भर भारत का ढोल बजाने में लगी है। हिन्दुस्थान समाचार/आकाश/बच्चन-hindusthansamachar.in