chhattisgarh-brave-son-of-assam-also-martyred-in-maoist-attack
chhattisgarh-brave-son-of-assam-also-martyred-in-maoist-attack
देश

छत्तीसगढ़ः माओवादी हमले में असम का बहादुर सपूत भी शहीद

news

ग्वालपारा (असम), 04 अप्रैल (हि.स.)। छत्तीसगढ़ में हुए माओवादी हमले में असम के एक और बहादुर सपूत बबलू राभा भी शहीद हो गये हैं। असम के ग्वालपारा जिले के दुधनै के रहने वाले बबलू राभा, केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल (सीआरपीएफ) की 210वीं कोबरा बटालियन में तैनात थे। गौरतलब है कि शनिवार को छत्तीसगढ़ के बीजापुर और सुकमा जिले की सीमा से सटे माओवाद बहुल पहाड़ी जंगलों में तलाशी अभियान के लिए जा रहे सुरक्षा बलों पर माओवादियों ने हमला कर दिया था। इस हमले में असम के बबलू राभा समेत 30 जवान घायल हो गए। शहीद बबलू ग्वालपाड़ा जिलांतर्गत दुधनै के निकटवर्ती दमरा पाटपारा के निवासी थे। बबलू अपने पीछे अपनी पत्नी और 07 साल की बेटी को छोड़ गये हैं। बबलू राभा 09 साल पहले सीआरपीएफ की कोबरा बटालियन में भर्ती हुए थे। वे गत दिसम्बर में ही घर से वापस बटालियन गए थे। घर वालों से मिली जानकारी के अनुसार रंगाली बिहू के मौके पर बबलू फिर घर आने वाले थे।अब बबलू राभा के शहीद होने की सूचना मिलते ही दमरा समेत गांव में शोक की लहर दौड़ गयी है। बताया जा रहा है कि शाहीद बबलू राभा का पार्थिव शरीर रविवार की शाम या सोमवार को दुधनै स्थित आवास पर लाया जाएगा। हिन्दुस्थान समाचार/ अरविंद / प्रभात ओझा