सीबीएसई 12वीं बोर्ड : 60 हजार छात्रों को देनी होगी ऑफलाइन परीक्षा

 सीबीएसई 12वीं बोर्ड : 60 हजार छात्रों को देनी होगी ऑफलाइन परीक्षा
cbse-12th-board-60-thousand-students-will-have-to-give-offline-examination

नई दिल्ली, 30 जुलाई (आईएएनएस)। सीबीएसई बोर्ड ने 12वीं बोर्ड का रिजल्ट शुक्रवार को घोषित कर दिया है। हालांकि शुक्रवार को आए नतीजों के बावजूद छात्रों का एक बड़ा वर्ग ऐसा भी है, जिसे 12वीं के बोर्ड रिजल्ट के लिए अभी और इंतजार करना होगा। अगले महीने ऐसे 60 हजार से अधिक ऐसे छात्रों को ऑफलाइन सीबीएसई 12वीं बोर्ड परीक्षा में शामिल होना होगा। ये सभी नॉन रेगुलर छात्र हैं, जिन्होंने प्राईवेट फॉर्म भरा है। केंद्रीय शिक्षा मंत्रालय के मुताबिक ऐसे 60,443 छात्रों की परीक्षाएं 16 अगस्त से 15 सितंबर के बीच आयोजित की जाएंगी। वहीं विभिन्न स्कूलों के 65184 छात्र ऐसे भी हैं फिलहाल जिनका रिजल्ट तैयार नहीं किया जा सका है। ऐसे छात्रों का रिजल्ट 5 अगस्त तक जारी किया जाएगा। सीबीएसई बोर्ड ने कुल 13,69,745 रेगुलर छात्रों में से शुक्रवार को 13,04,561 उम्मीदवारों के परिणाम घोषित किए हैं। शेष 65,184 छात्रों का परीक्षा परिणाम प्रक्रियाधीन हैं। सीबीएसई के मुताबिक 5 अगस्त तक इन छात्रों का भी रिजल्ट घोषित कर दिया जाएगा। इसके बाद यह छात्र भी आगे की कक्षाओं एवं कोर्सेज में दाखिले के लिए आवेदन कर सकते हैं। गौरतलब है कि बारहवीं कक्षा का रिजल्ट जारी करने के साथ ही अगले सप्ताह से विभिन्न विश्वविद्यालयों में दाखिला प्रक्रिया शुरू होनी है। विश्वविद्यालयों में दाखिला प्रक्रिया पर नॉर्थकैप यूनिवर्सिटी के प्रो-चांसलर प्रोफेसर मिलिंद पडलकर ने आईएएनएस से कहा कि आमतौर पर सीबीएसई के परिणाम के दिन विद्यार्थी और अभिभावक उत्सुक और घबराए होते हैं। इस बार कोविड महामारी की वजह से शिक्षा क्षेत्र बुरी तरह प्रभावित हुई है। बहुत-से लोग परीक्षा की प्रक्रिया और परिणामों की प्रामाणिकता के बारे में सशंकित थे। इसलिए सीबीएसई बधाई का पात्र है, क्योंकि इसने परिणामों की विश्वसनीयता और विद्यार्थियों की सुरक्षा के बीच एक अच्छा संतुलन कायम रखा। उन्होने कहा कि ये परिणाम कठिन समय में सीबीएसई के शानदार काम के प्रमाण हैं। बिना विलंब परिणाम घोषित करने और विद्यार्थियों को उच्च शिक्षा जारी रखने में सक्षम बनाने के लिए सीबीएसई यह प्रयास सराहनीय है। इससे पहले यूजीसी ने सभी विश्वविद्यालयों, कॉलेजों और शैक्षणिक संस्थानों को स्पष्ट निर्देश दिया था कि 12वीं सीबीएसई बोर्ड और अन्य राज्यों के बोर्ड परिणाम घोषित होने के बाद ही नए बैच के लिए प्रवेश प्रक्रिया शुरू की जाए। गौरतलब है कि देश के विभिन्न विश्वविद्यालयों में प्रथम वर्ष के छात्रों के लिए नया बैच 1 अक्टूबर 2021 से शुरू किया जाएगा। --आईएएनएस जीसीबी/एएनएम

अन्य खबरें

No stories found.