BSF is going to organize 'Friendship Cycle Rally'
BSF is going to organize 'Friendship Cycle Rally'
देश

बीएसएफ करने जा रहा है ‘मैत्री साइकिल रैली’ का आयोजन

news

नई दिल्ली, 09 जनवरी (हि.स.)। सीमा सुरक्षा बल (बीएसएफ) भारत बांग्लादेश की सीमा पर रहने वाले लोगों को जागरूक करने एवं बीएसएफ तथा बॉर्डर गार्ड में संबंधों को और मधुर बनाने के उद्देश्य से रविवार को ‘मैत्री साइकिल रैली’ का आयोजन करने जा रहा है। बीएसएफ मुख्यालय के अनुसार बांग्लादेश इस वर्ष अपने राष्ट्रपिता बंगबन्धु शेख मुजीब उर रहमान की जन्म शताब्दी समारोह का आयोजन कर रहा है, जिसे उन्होंने ‘मुजीब बोरशो’ नाम दिया है। यह कार्यक्रम 17 मार्च 2020 से 16 दिसंबर 2021 तक मनाया जाएगा। वहीं भारत में भी बंगबन्धु की जन्म शताब्दी के उपलक्ष्य में कई कार्यक्रम किये जाएंग। इन्हीं कार्यक्रमों की श्रृंखला में बीएसएफ द्वारा ‘मैत्री साइकिल रैली’ का आयोजन किया जा रहा हैं। यह ‘मैत्री साइकिल रैली’ 10 जनवरी, 2021 को सीमा चौकी पानीतर (मेन पिलर -1), 153वीं बटालियन, बीएसएफ, 24 नार्थ परगना जिले से शुरू होगी और और सीमा के साथ 4,097 किलोमीटर की कुल दूरी तय करने के बाद, 17 मार्च, 2021 को बॉर्डर आउट पोस्ट सिल्कोर, 60 बटालियन, मिजोरम सीमा पर समाप्त होगी। इस रैली में 13 साइकिल सवार शामिल होंगे। यह रैली 66 दिन की यात्रा करते हुए 4,097 किलोमीटर भारत बांग्लादेश के बॉर्डर इलाके से 06 राज्यों- पश्चिम बांगाल, असम, त्रिपुरा, मणिपुर, मेघालय और मिजोरम से गुजरेगी। साइकिल रैली को 10 जनवरी सुबह करीब 11 बजे पूर्व थल सेना प्रमुख जनरल (सेवानिवृत्त) शंकर राय चौधरी हरी झंडी दिखाकर रवाना करेंगे। उक्त कार्यक्रम में बांग्लादेश बॉर्डर गार्ड के वरिष्ठ अधिकारी और स्थानीय लोग शामिल होंगे। यह रैली प्रत्येक दिन 90-100 किलोमीटर की दूरी तय करेगी और अंतरराष्ट्रीय सीमा के साथ सीमा चौकियों पर रात में रुकेगी। इस रैली का उद्देश्य भारत बांग्लादेश की सीमा सीमा पर रहने वाले लोगों में सुरक्षा का भाव पैदा करना, सीमा सुरक्षा बल तथा बॉर्डर गार्ड बांग्लादेश में मित्रता बढ़ाना, सीमा पर अपराधों को रोकने के लिए बॉर्डर पर रहने वाले लोगों को जागरूक करना और नशाखोरी एवं पशु तस्करी के खिलाफ लोगों में जागरुकता पैदा करना है। हिन्दुस्थान समाचार/अश्वनी-hindusthansamachar.in