कोरोना संक्रमण के चलते ब्रिटेन में फंसे लोगों के लिए बढ़ाई गई वीजा अवधि, अधिक संख्या में हैं भारतीय
कोरोना संक्रमण के चलते ब्रिटेन में फंसे लोगों के लिए बढ़ाई गई वीजा अवधि, अधिक संख्या में हैं भारतीय
देश

कोरोना संक्रमण के चलते ब्रिटेन में फंसे लोगों के लिए बढ़ाई गई वीजा अवधि, अधिक संख्या में हैं भारतीय

news

ब्रिटिश सरकार ने देश में फंसे विदेशी लोगों के वीजा की अवधि स्वत: एक माह के लिए बढ़ाने की घोषणा की है। यह अवधि 31 अगस्त तक के लिए बढ़ाई गई है। कोरोना वायरस के संक्रमण से बाधित आवागमन या सेल्फ आइसोलेशन के चलते 40 हजार से ज्यादा विदेशी ब्रिटेन में फंसे हुए हैं। इनमें भारतीयों की भी काफी तादाद है। वीजा अवधि में बढ़ोत्तरी की घोषणा 31 मई को की गई थी। तब सरकार ने 31 जुलाई तक वीजा बढ़ाया था। लेकिन हालात में सुधार न होने और हवाई यातायात शुरू न होने से वीजा अवधि फिर से एक महीने के लिए बढ़ानी पड़ी है। इस सुविधा का लाभ उन सभी लोगों को मिलेगा, जिनके वीजा की अवधि 24 जनवरी के बाद खत्म हुई है या हो रही है। 31 अगस्त इस छूट की अंतिम तारीख गृह मंत्रालय के प्रवक्ता ने कहा है कि दुनिया में यातायात सुविधाओं पर से रोक हटाए जाने की शुरुआत हो चुकी है। सरकार ने वीजा अवधि बढ़ाने की जो छूट दी है, वह अस्थायी आधार पर है। 31 अगस्त इस छूट की अंतिम तारीख है। इसके बाद विदेशी लोगों को ब्रिटेन छोड़ना होगा। इससे पूर्व ही उन्हें अपनी यात्रा के बंदोबस्त करने होंगे। प्रवक्ता के अनुसार सरकार की इस घोषणा से 40 हजार से ज्यादा लोगों को राहत मिलेगी। इन सभी की वीजा अवधि 24 जनवरी से 31 जुलाई के मध्य खत्म हो चुकी है या हो रही है। 14 दिन का क्वारंटाइन फिर से अनिवार्य यूरोप पर कोरोना महामारी के दूसरे दौर के मंडराते खतरे से ब्रिटेन सहम गया है। संक्रमण से चिंतित ब्रिटिश अधिकारियों ने स्पेन से आने वाले लोगों के लिए 14 दिन का क्वारंटाइन फिर से अनिवार्य कर दिया है। स्वास्थ्य मंत्री मैट हैनकॉक ने कहा कि दूसरे देशों के लिए भी ऐसा किया जा सकता है। ब्रिटेन में अब तक तीन लाख से ज्यादा संक्रमित पाए गए हैं। 45 हजार से अधिक की मौत हुई है। हालांकि इस देश में अब संक्रमण की दर में गिरावट देखी जा रही है।-newsindialive.in