bjp-trying-to-win-hearts-of-tribals-in-mp
bjp-trying-to-win-hearts-of-tribals-in-mp
देश

मप्र में आदिवासियों का दिल जीतने में जुटी भाजपा

news

झाबुआ, 5 अक्टूबर (आईएएनएस)। मध्य प्रदेश की राजनीति में आदिवासी वर्ग के खासी अहमियत है और यह वर्ग चुनावों में निर्णायक भूमिका अदा करता है। यही कारण है कि भाजपा इस वर्ग का दिल जीतने की हर संभव कोशिश में लगी है। राज्य में आदिवासी वर्ग की आबादी के लिहाज से 20 फीसदी से ज्यादा का हिस्सेदारी है, यही कारण है कि सत्ता जिस भी दल के हाथ में होती है, वह इस वर्ग का अपने को सबसे बड़ा हमदर्द बताता है। वर्तमान में राज्य में भाजपा की सरकार है और वह इस वर्ग पर सौगातों की बरसात करने में लगी है। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने झाबुआ में जनजातीय सम्मेलन को संबोधित करते हुए कहा, राज्य शासन जनजातीय समाज के विकास, उत्थान और उनके मान-सम्मान की रक्षा के लिए कटिबद्ध है। वनवासी अंचलों का तेजी से विस्तार किया जा रहा है और आगे भी किया जाता रहेगा। आज मैंने तीर कमान पर चढ़ाया है, जिससे मध्यप्रदेश में विकास परवान चढ़ें। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अगुवाई में देश विकास के लिए नई करवट ले रहा है। उन्होंने कहा, मैं आज दोनों बाहें फैलाकर जनजातीय समाज का आह्वान करता हूं कि वे अपनी जिंदगी बदलें। मध्यप्रदेश की सरकार उनके लिए योजनाओं की बिसात बिछाकर बैठी है। मुख्यमंत्री चौहान ने कहा कि कई छोटे-छोटे मामलों में जनजातीय समाज को कोर्ट- कचहरी के चक्कर लगाने पड़ते हैं, ऐसे मामले जो गंभीर प्रकृति के नहीं हैं, उन्हें वापस लिया जाएगा। मुख्यमंत्री चौहान ने कहा कि 2011 की सर्वे सूची में जिन गरीबों के नाम नहीं है, सर्वे कराकर ऐसे गरीबों के नाम जोड़ने का काम शुरू किया जा रहा है। इस संबंध में जिला प्रशासन को निर्देश दिए गए हैं। हर परिवार को मकान बनाने के लिए सरकार प्लॉट आवंटित करेगी। जो लोग संयुक्त परिवार में निवासरत हैं, उन्हें अलग-अलग परिवार की श्रेणी में लेकर प्लांट के साथ आवास निर्माण के लिए राशि उपलब्ध कराई जाएगी। मुख्यमंत्री चौहान ने कहा कि राजस्व विभाग सात अक्टूबर से नामांतरण और बंटवारे का अभियान चलाएगा। जन-प्रतिनिधि इसकी निगरानी करें, इसमें कहीं पर भी लेन-देन की शिकायत मिली तो उसे नौकरी करने लायक नहीं छोड़ेंगे। उन्होंने कहा कि वनवासी समाज में जन्म-मृत्यु और पूजा के अनेक अवसरों पर मदिरा की जरूरत पड़ती है। ऐसे में इस समाज की संस्कृति और परंपरा के निर्वाह के लिए महुआ से मदिरा बनाने की छूट भी दी जाएगी। इसके लिए आबकारी नीति में संशोधन किया जाएगा। भाजपा के प्रदेशाध्यक्ष विष्णु दत्त शर्मा ने कहा कि राज्य सरकार जनजातीय क्षेत्र के विकास के लिये कटिबद्ध है। जनजातीय विकास तथा उत्थान के लिए किए जा रहे कार्यो से हम गौरवान्वित हैं। आजादी के बाद पहली बार पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी द्वारा जनजातीय क्षेत्र के विकास पर विशेष ध्यान देना शुरू किया गया। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी एवं मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान द्वारा अनुसूचित जाति एवं जनजाति के विकास एवं उत्थान के लिए भी विशेष प्रयास किए जा रहे हैं। आजादी की लड़ाई में योगदान देने वाले जनजातीय महानायकों को विशेष पहचान दिलाई है। उनके आदर्शो, व्यक्तित्व तथा कृतित्व को जन-जन तक पहुंचाया जा रहा है। झाबुआ पहुंचने पर मुख्यमंत्री चौहान भाजपा प्रदेशाध्यक्ष का वनवासी अंचल के परम्परागत लोक नृत्यों के साथ स्वागत किया गया। लोक नृत्य कर रहे जनजातीय समुदाय के उत्साह को देखकर दोनों नेता भाव-विभोर हो गए। उन्होंने लोक नृत्य कर रहे नर्तकों का साथ दिया। --आईएएनएस एसएनपी/एसजीके