bjp-reached-the-commission-against-mamta39s-statement-to-surround-the-central-force
bjp-reached-the-commission-against-mamta39s-statement-to-surround-the-central-force
देश

सेंट्रल फोर्स को घेरने संबंधी ममता के बयान के खिलाफ आयोग पहुंची भाजपा

news

- ममता पर लगाया माओवादियों की भाषा बोलने का आरोप कोलकाता, 07 अप्रैल (हि.स.)। पश्चिम बंगाल में चुनावी ड्यूटी में तैनात सेंट्रल फोर्स के जवानों को घेर कर रखने संबंधी ममता बनर्जी के उकसावे के खिलाफ भारतीय जनता पार्टी ने चुनाव आयोग में शिकायत दर्ज कराई है। आयोग को दी गई अपने चिट्ठी में पार्टी ने कहा है कि ममता की भाषा माओवादियों की तरह है और उनके खिलाफ तत्काल कार्रवाई किए जाने की जरूरत है। भारतीय जनता पार्टी के वरिष्ठ नेता शिशिर बाजोरिया व प्रदेश उपाध्यक्ष जय प्रकाश मजूमदार ने राज्य के मुख्य चुनाव अधिकारी आरिज आफताब से मिलकर इसके खिलाफ लिखित शिकायत दर्ज कराई है। पार्टी ने ममता के इस बयान को संविधान विरोधी करार दिया और कार्रवाई की मांग की है। इस बारे में जयप्रकाश मजूमदार ने कहा कि यदि कोई भी राजनीतिक दल किसी भी सैन्य या अर्ध सैनिक बल का विरोध या उस पर इस तरह की टिप्पणी करता है तो यह पूरी तरह से असंवैधानिक है। यह संविधान के खिलाफ रवैया है और मुझे लगता है कि यह राज्य विरोधी कृत्य है। उन्होंने पूछा कि क्या चुनाव आयोग को तृणमूल कांग्रेस की मान्यता रद्द नहीं करनी चाहिए? जय प्रकाश मजूमदार ने कहा कि ममता बनर्जी की टिप्पणी माओवादियों की भाषा से मेल खाती है। सैन्य अधिकारी और अर्धसैनिक बलों के जवान देश की रक्षा करते हैं, ममता उन पर हमला करने के लिए लोगों को उकसा रही हैं। सत्ता के नशे में यह बयानबाजी पूरी तरह से संविधान विरोधी है। उन्हें ऐसा करने का कोई अधिकार नहीं। उल्लेखनीय है कि कूचबिहार की एक जनसभा को संबोधित करते हुए ममता बनर्जी ने कहा कि अगर केंद्रीय बलों के जवान परेशान करते हैं तो उन्हें घेर कर रखो और मतदान करने जाओ। सीएम के इस बयान के बाद इस बात की आशंका गहरा गई है कि इसके बाद मतदान के दौरान ममता बनर्जी के समर्थक केंद्रीय बलों पर आरोप लगाते हुए हमले कर सकते हैं। हिन्दुस्थान समाचार / ओम प्रकाश