मुकुल के तृणमूल में वापसी पर भाजपा : पार्टी पर कोई असर नहीं पड़ेगा

मुकुल के तृणमूल में वापसी पर भाजपा : पार्टी पर कोई असर नहीं पड़ेगा
bjp-on-mukul39s-return-to-trinamool-will-not-affect-party

कोलकाता, 11 जून (हि.स.)। ममता बनर्जी के पूर्व सहयोगी मुकुल रॉय के भारतीय जनता पार्टी छोड़कर तृणमूल कांग्रेस ने वापसी पर प्रदेश भाजपा ने कहा है कि इससे पार्टी की राजनीतिक सेहत पर कोई असर नहीं पड़ेगा। शुक्रवार को प्रदेश उपाध्यक्ष जय प्रकाश मजूमदार ने मुकुल रॉय के तृणमूल में वापसी के बाद पत्रकारों से कहा कि रॉय के जाने से भाजपा पर कोई फर्क नहीं पड़ेगा। उन्होंने हालांकि मुकुल रॉय को नई राजनीतिक पारी शुरू करने पर शुभकामनाएं देते हुए कहा कि बंगाल की जनता भविष्य में इस धोखेबाजी पर अपना फैसला सुनाएगी। उन्होंने राज्य में चुनाव बाद लगातार हो रही हिंसा को लेकर ममता बनर्जी पर निशाना साधा और कहा कि बंगाल में शव की रैली निकल रही है। लेकिन रॉय तृणमूल भवन में बैठकर दो घंटे में भाजपा को खत्म करने की योजना बना रहे हैं। लोग सब कुछ देख रहे हैं और इसका विचार करेंगे। इसी तरह से भारतीय जनता पार्टी के बैरकपुर से सांसद अर्जुन सिंह ने मुकुल की वापसी पर कटाक्ष करते हुए कहा कि भारतीय जनता पार्टी को इससे कोई असर नहीं पड़ेगा। अर्जुन सिंह ने कहा कि राजनीति में अवसरवादी नेता ऐसा करते हैं। अभिषेक बनर्जी और मुकुल रॉय के बीच एक दरार पैदा हो गई थी तो वह भाजपा में शामिल हो गए थे। अब फिर तृणमूल में लौट गए हैं। ऐसे ही लोग आते जाते रहेंगे। मुकुल रॉय लंबे समय से राजनीति में हैं लेकिन कभी चुनाव नहीं जीत पाए। जीवन में पहली बार चुनाव जीता है वह भी भारतीय जनता पार्टी के चुनाव चिह्न पर। उन्हें तृणमूल कांग्रेस में जाने से पहले इस्तीफा दे देना चाहिए था। उल्लेखनीय है कि शुक्रवार को मुकुल रॉय ने ममता बनर्जी की मौजूदगी में तृणमूल भवन में जाकर पार्टी की सदस्यता ले ली है। हिन्दुस्थान समाचार / ओम प्रकाश