भाजपा अल्पसंख्यक मोर्चा राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक- मुस्लिम मतदाताओं को साधने की कवायद

 भाजपा अल्पसंख्यक मोर्चा राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक- मुस्लिम मतदाताओं को साधने की कवायद
bjp-minority-morcha-national-executive-meeting---an-exercise-to-woo-muslim-voters

नई दिल्ली, 23 अक्टूबर (आईएएनएस)। पांच राज्यों के विधानसभा चुनाव में अल्पसंख्यक समुदाय खासकर देश के मुस्लिम मतदाताओं को पार्टी के साथ जोड़ने की रणनीति पर चर्चा करने के लिए भाजपा के अल्पसंख्यक मोर्चा की राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक होने जा रही है। राजधानी दिल्ली में रविवार को वाली अल्पसंख्यक मोर्चा की राष्ट्रीय कार्यकारिणी की इस बैठक में मोर्चा के राष्ट्रीय अध्यक्ष , सभी राष्ट्रीय पदाधिकारी, मोर्चे के सभी प्रदेशों के अध्यक्षों और प्रदेश प्रभारियों के अलावा केंद्रीय अल्पसंख्यक कार्य मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी और अल्पसंख्यक मोर्चा की प्रभारी एवं भाजपा की राष्ट्रीय महासचिव डी. पुरंदेश्वरी भी शामिल होंगी। आईएएनएस से बातचीत करते हुए बीजेपी अल्पसंख्यक मोर्चा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जमाल सिद्दीकी ने बताया कि राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक में देश के वर्तमान हालात को लेकर राजनीतिक प्रस्ताव पर विचार विमर्श किया जाएगा। आईएएनएस से बातचीत करते हुए अल्पसंख्यक मोर्चा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जमाल सिद्दीकी ने बताया कि कार्यकारिणी की बैठक में मोर्चे की उपलब्धियों और कमियों पर चर्चा के साथ-साथ भविष्य की रणनीति पर भी बातचीत की जाएगी। तमाम राज्यों और केंद्र शासित प्रदेश में मोर्चा के द्वारा किए गए कामों की रिपोर्ट पर भी बैठक में चर्चा की जाएगी। जमाल सिद्दीकी ने दावा किया कि केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार और राज्यों की भाजपा की सरकारों ने मुस्लिम समुदाय समेत तमाम अल्पसंख्यक वर्गों के लिए इतने काम किए हैं जो पहले कभी नहीं हुए। मोर्चा इन उपलब्धियों की जानकारी इस समुदाय के हर घर तक पहुंचाने की रणनीति भी बनाएगा ताकि लोगों तक भाजपा सरकार के कामकाज की सही जानकारी पहुंच सके। रविवार को होने वाली कार्यकारिणी की बैठक का एजेंडा तय करने के लिए एक दिन पहले शनिवार को भाजपा के राष्ट्रीय मुख्यालय में अल्पसंख्यक मोर्चा के तमाम राष्ट्रीय पदाधिकारियों की बैठक भी चल रही है। शनिवार को शाम तक चलने वाली इस बैठक में सभी राज्यों से आई रिपोर्ट पर चर्चा करने के साथ-साथ रविवार को होने वाली राष्ट्रीय कार्यकारिणी के एजेंडे पर भी मुहर लगाई जाएगी। दरअसल , हिंदुत्व से जुड़े मुद्दों को उठाने की वजह से विरोधी दलों ने भाजपा की छवि एक हिंदुत्व आधार वाली बना रखी है। विपक्षी दल लगातार मुस्लिम विरोधी बताते हुए भाजपा पर निशाना साधते रहते हैं। ऐसे में भाजपा अल्पसंख्यक मोर्चा के सामने यह बड़ी चुनौती है कि वो भाजपा की छवि को बदलते हुए कैसे मुस्लिम मतदाताओं को अपने साथ जोड़ें। --आईएएनएस एसटीपी/एएनएम

अन्य खबरें

No stories found.