bangladeshi-citizen-arrested-in-bomb-attack-on-bengal-minister-zakir-hussain
bangladeshi-citizen-arrested-in-bomb-attack-on-bengal-minister-zakir-hussain
देश

बंगाल के मंत्री जाकिर हुसैन पर बम हमले में बांग्लादेशी नागरिक गिरफ्तार

news

आतंकी कनेक्शन की भी हो रही जांच कोलकाता, 24 फरवरी (हि.स.)। पश्चिम बंगाल के श्रम राज्यमंत्री जाकिर हुसैन पर पिछले सप्ताह बुधवार रात मुर्शिदाबाद के निमतीता स्टेशन पर हुए बम हमले के मामले की जांच कर रही सीआईडी ने एक बांग्लादेशी नागरिक को गिरफ्तार किया है। उसकी पहचान शेख नसीम के तौर पर हुई है। सूत्रों ने बताया है कि उसे मंगलवार रात गिरफ्तार किया गया है। युवा उम्र के नसीम का किसी आतंकी संगठन के साथ कोई कनेक्शन है या नहीं, इस बारे में भी सीआईडी की टीम जांच में जुट गई है। प्रारंभिक जांच में पता चला है कि वह स्टेशन के बाहर फुटपाथ पर सामान आदि बेचता था। सीसीटीवी फुटेज से पता चला है कि मंत्री पर हमले से कई दिनों पहले से वह पूरे स्टेशन परिसर में लगातार घूम रहा था। वारदात वाले दिन रेल पुलिस की नजर बचाकर उसने बैग में भरकर रिमोट बम को कैसे स्टेशन पर रख दिया और किसके कहने पर मंत्री के आने पर विस्फोट किया, इस बारे में पूछताछ हो रही है। वारदात में कुछ अन्य के शामिल होने की आशंका सीआईडी सूत्रों ने दावा किया है कि वारदात में नसीम अकेला नहीं है। उसके कई अन्य साथी भी हैं जिनके बारे में जानकारी जुटाने की कोशिश की जा रही है। गौरतलब है कि गत 17 फरवरी को कोलकाता से वापस लौट रहे जाकिर हुसैन रात के समय मुर्शिदाबाद के निमतीता स्टेशन पर उतरे थे। उनके स्वागत के लिए समर्थक और परिवार के सदस्य पहुंचे थे। जैसे ही वे सभी लोगों के साथ आगे बढ़ रहे थे कि अचानक ब्लास्ट हुआ। मंत्री समेत 26 लोग इस धमाके की चपेट में आ गए थे। कुछ लोगों के हाथ-पैर और शरीर के अन्य अंग उड़ गए। घटना में जख्मी मंत्री का कोलकाता के एसएसकेएम अस्पताल में इलाज चल रहा है। विस्फोट इतना जोरदार था कि इसकी चपेट में आने वाले एक व्यक्ति के पैर का अंगूठा उड़कर 100 मीटर दूर स्टेशन परिसर की छत पर चला गया था। जांच में पता चला था कि विस्फोट के लिए आईईडी का इस्तेमाल किया गया था। जाहिर-सी बात है नसीम और उसके साथी आईईडी बम बनाने में माहिर हैं। ऐसे में इनके संबंध आतंकी अथवा उग्रवादी संगठनों से होने की आशंका को बल मिल रहा है। फिलहाल सीआईडी अधिकारियों ने इसपर बहुत कुछ नहीं बताया है। जांच अधिकारियों का कहना है कि प्रेस कॉन्फ्रेंस कर इस बारे में पूरी जानकारी दी जाएगी। हिन्दुस्थान समाचार / ओम प्रकाश/मधुप