परिसीमन हो जाने के बाद जम्मू-कश्मीर में जल्द करवाए जाएंगे विधान सभा चुनाव : भाजपा राष्ट्रीय महासचिव तरुण चुग (इंटरव्यू )

 परिसीमन हो जाने के बाद जम्मू-कश्मीर में जल्द करवाए जाएंगे विधान सभा चुनाव : भाजपा राष्ट्रीय महासचिव तरुण चुग (इंटरव्यू )
assembly-elections-will-be-held-soon-in-jammu-and-kashmir-after-delimitation-bjp-national-general-secretary-tarun-chugh-interview

नई दिल्ली, 15 नवंबर (आईएएनएस)। जम्मू-कश्मीर में विधान सभा चुनाव कब करवाए जाएंगे ? पंजाब में अकेले चुनाव लड़ने जा रही भाजपा की क्या तैयारी है और पार्टी राज्य विधान सभा चुनाव में किन मुद्दों पर प्रमुखता से फोकस करने जा रही है ? प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से पंजाब भाजपा के नेताओं के मुलाकात के क्या मायने हैं और दक्षिण भारत के राज्य तेलंगाना में भाजपा किस तरह से अपने पैर पसार रही है, इन तमाम मुद्दों पर आईएएनएस के वरिष्ठ सहायक संपादक संतोष कुमार पाठक ने जम्मू-कश्मीर, लद्दाख एवं तेलंगाना के प्रभारी और भाजपा के राष्ट्रीय महासचिव तरुण चुग के साथ खास बातचीत की। सवाल - भाजपा पहली बार पंजाब में अकाली दल के बिना चुनाव लड़ने जा रही है ? कितनी मजबूती से आपकी पार्टी कांग्रेस, अकाली और आप के खिलाफ चुनाव लड़ पाएगी ? जवाब- जी, इस बार भाजपा अपने दम पर विधानसभा चुनाव लड़ेगी। 1952 से हम लगातार चुनाव लड़ रहे हैं। पहले जनसंघ के रूप में व 1980 से भाजपा के रूप में व 1992 में भी हम एक पार्टी के रूप में लड़े थे, हालांकि परिस्थितियाँ अलग थीं। इस बार हम कांग्रेस, अकाली दल और आप समेत सभी विरोधी दलों को बराबर की टक्कर देने के लिए तैयार हैं सभी 117 विधानसभा सीटों पर बूथ स्तर पर हमारी तैयारी है। सवाल- अमरिंदर सिंह लगातार भाजपा के साथ गठबंधन की संभावना को लेकर बोल रहे हैं, आप लोग भी उन्हें राष्ट्रवादी नेता कह रहे हैं तो फिर मामला कहां अटका हुआ है ? अमरिंदर सिंह के साथ मिलकर चुनाव लड़ने को लेकर भाजपा अंतिम फैसला और घोषणा कब तक करेगी ? जवाब - यह पार्टी आलाकमान को तय करना है कि कब और किस तरह का गठबंधन करना है। पंजाब एक सीमा प्रांत है, उसकी शांति व सुरक्षा महत्वपूर्ण है। भाजपा उचित समय पर निर्णय करेगी। सवाल - रविवार को आप लोगों ने ( पंजाब भाजपा नेताओं का प्रतिनिधिमंडल ) प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मुलाकात कर करतारपुर साहिब कॉरिडोर को फिर से खोलने की मांग भी की है। यह पंजाब के लिए कितना बड़ा मुद्दा है ? जवाब- प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की वजह से ही पहले भी करतारपुर साहिब कॉरिडोर खुला था , जिसकी मांग सिख पिछले 7 दशकों से कर रहे थे। इसके साथ ही प्रधानमंत्री ने पंजाब और सिखों के लिए कई ऐतिहासिक काम किए हैं। इसलिए हम लोगों ने ( पंजाब भाजपा के नेता ) उनसे मुलाकात कर उनका धन्यवाद किया और साथ ही यह भी आग्रह भी किया कि गुरू नानक देव जी महाराज के प्रकाश पर्व, 19 नवंबर से पहले करतारपुर साहिब कॉरिडोर को फिर से खोला जाए ताकि पूरे उत्साह और श्रद्धा के साथ संगत इस गुरुद्वारे में जाकर मत्था टेक सके। 1984 दंगो के आरोपियों को 30 साल बाद मोदी सरकार के प्रयासों की वजह से ही सजा मिलनी शुरू हुई और सिखो को इंसाफ मिलना शुरू हुआ, इसके लिए भी हमने उनका धन्यवाद किया। सवाल - पंजाब विधान सभा चुनाव में भाजपा के लिहाज से सबसे बड़ा मुद्दा क्या है ? क्या वायदा करके आप जनता से वोट मांगेंगे? जवाब- सभी क्षेत्रों में माफिया राज सबसे गंभीर मुद्दा है। ड्रग माफिया है, बालू माफिया, ट्रांसपोर्ट माफिया और ऐसे कई और हैं। पंजाब की कानून-व्यवस्था की स्थिति पूरी तरह चरमरा गई है। पंजाब की अर्थव्यवस्था का बुरा हाल है। कृषि या उद्योग, व्यापार में कोई विकास नहीं है। यही सब मुद्दे हमारे अभियान का हिस्सा होंगे। सवाल - जम्मू-कश्मीर से धारा 370 हटाते समय और राज्य का पुनर्गठन करते समय आपकी सरकार की तरफ से यह वायदा किया गया था कि राज्य में उपयुक्त समय पर विधान सभा चुनाव कराए जाएंगे, इसे लेकर क्या तैयारी है ? जवाब- धारा-370 के हटने का सभी ओर स्वागत हो रहा है। लोकतंत्र मजबूत हुआ है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के आह्वाहन पर जम्मू-कश्मीर के लोगों ने लाखों की तादाद में वोट डाल कर लोकतंत्र को मजबूत किया है और मोदी जी की नीतियों पर विश्वास प्रकट किया है। जम्मू-कश्मीर में जल्द विधान सभा चुनाव करवाने की पूरी तैयारी की जा रही है। चुनाव आयोग द्वारा परिसीमन का मामला पहले से ही देखा जा रहा है। परिसीमन का कार्य पूरा हो जाने के बाद केंद्र सरकार जल्द ही इस पर निर्णय लेगी। सवाल- लेकिन बार-बार यही सवाल पूछा जा रहा है कि राज्य में विधान सभा चुनाव कब करवाए जाएंगे? जवाब - जल्द करवाएं जाएंगे। परिसीमन करना स्वतंत्र व्यवस्था है। जैसा कि हमने आपको बताया कि केंद्र सरकार इस मामले को जल्द ही करना चाहती है। सवाल ? जम्मू-कश्मीर में विधान सभा चुनाव में भाजपा का लक्ष्य क्या रहेगा ? अकेले मिल कर चुनाव लड़ेंगे या अन्य पार्टियों को भी साथ जोड़ेंगे? जवाब- अभी इस बारे में कुछ भी कहना जल्दबाजी होगी। पहले चुनाव की घोषणा होने दीजिए, फिर पार्टी देखेगी कि क्या करना है। सवाल- हाल के दिनों में जिस तरह से आतंकी घटनाएं बढ़ीं, आतंकवादियों ने जिस तरह से प्रवासियों को निशाना बनाया, उसके पीछे आपको क्या मंशा नजर आती है ? जवाब - कश्मीर घाटी में दहशत फैलाने के लिए यह पाकिस्तान और आईएसआई का षड़यंत्र है और भारतीय सुरक्षा बल इससे प्रभावी रूप से निपटेंगे। जम्मू-कश्मीर आतंकवाद से पर्यटन की ओर बढ़ चुका है। लोगों को एहसास हो गया है कि इतने दशकों तक अब्दुल्ला, मुफ्ती और कांग्रेस ने उन्हें मूर्ख बनाया है। अब नया विकास होने लगा है और लोग खुश हैं लेकिन आईएसआई इससे खफा है इसलिए वह पाकिस्तानी एजेंटों के साथ हिंसा कर रहा है। इस नापाक खेल में पाकिस्तान की हार होगी। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सरकार लगातार आतंकवाद के समूल नाश एवं विकास और सुरक्षा पर काम कर रही है। 2004 से 2014 के दौरान आतंकवादी घटनाओं में 2081 लोगों की मौत हुई जबकि 2014 से 2021 के दौरान 239 नागरिकों की जाने गईं, यह जम्मू-कश्मीर में शांति की स्थापना का पर्याय है। सवाल - जम्मू-कश्मीर को फिर से पूर्ण राज्य का दर्जा देने की मांग भी विरोधी दल उठाते रहते हैं ? बतौर भाजपा प्रभारी, इस पर आपका क्या कहना है ? जवाब - ऐसे सभी लोगों को यह समझ जाना चाहिए कि जम्मू-कश्मीर अपने अतीत से आगे बढ़ चुका है। विकास और प्रगति का एक नया अध्याय लिखा गया है। ऐसी सभी मांगें उन राजनेताओं द्वारा उठाई जा रही हैं जो जम्मू-कश्मीर में अनावश्यक हो गए हैं। भाजपा वह सब कुछ करेगी जो जम्मू-कश्मीर के लोगों के लिए लाभकारी होगा और इस पर सही समय पर सही निर्णय लिया जाएगा। सवाल - लद्दाख के लोगों की यह आम शिकायत रही है कि जम्मू-कश्मीर का हिस्सा होने की वजह से उनके विकास की रफ्तार काफी धीमी रही है। आपकी सरकार ने उसे अलग केंद्र शासित प्रदेश का दर्जा दे दिया। वहां के लोगों की शिकायत को कितना दूर कर पाए हैं आप? जवाब- अब्दुल्ला और मुफ्ती की नीतियों के कारण दशकों तक लद्दाख उपेक्षित रहा। लद्दाख क्षेत्र का कभी सम्मान नहीं किया जाता था, लेकिन अब नए विकास कार्य हो रहे हैं और लद्दाख के लोग इस पर गर्व महसूस करने लगे हैं। केंद्र लद्दाख को एक विकसित क्षेत्र बनाएगा जहां लोगों को विकास और प्रगति एवं कनेक्टिविटी के नए रास्ते मिलेंगे। सवाल - आप तेलंगाना के भी प्रभारी है। हाल ही में आपने तेलंगाना जाकर सभी जिला प्रभारियों के साथ बैठक कर भविष्य की रणनीति भी बनाई थी। राज्य में पार्टी के विस्तार को लेकर भाजपा क्या-क्या करने जा रही है ? जवाब - तेलंगाना में भाजपा मजबूत जड़ें जमा रही है। हमारी पार्टी के कार्यकर्ता जमीनी स्तर पर सक्रिय हैं और भाजपा तेलंगाना में एक बड़ी ताकत बन गई है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर अटूट विश्वास व मोदी सरकार की गरीब, दलित व पिछडों के जीवन में लगातार लाए जा रहे सकारात्मक परिवर्तन से जनता का रूझान भाजपा की तरफ बढा है। सवाल - इसी तेलंगाना राज्य से ओवैसी भी आते हैं जो पश्चिम बंगाल, बिहार के बाद अब उत्तर प्रदेश में भी विधान सभा चुनाव लड़ने जा रहे हैं। विरोधी उन्हें भाजपा की बी टीम बताते हैं । तेलंगाना में केसीआर के साथ-साथ ओवैसी आपके लिए कितनी बड़ी चुनौती हैं? जवाब- भाजपा तेलंगाना में सबसे लोकप्रिय पार्टी बन गई है क्योंकि लोगों ने देखा है कि केसीआर उन्हें कैसे लूटते आ रहे हैं। तेलंगाना में गुंडा राज है इसलिए लोग बदलाव चाहते हैं और भाजपा को सरकार बनाने का अवसर देने के लिए तैयार हैं। ओवैसी भी भाजपा के लिए चुनौती नहीं हैं क्योंकि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की नीतियां काफी लोकप्रिय व जनहितकारी है। भ्रष्टाचार मुक्त, वंशवाद मुक्त शासन व्यवस्था, और सबका साथ-सबका विकास, भाजपा व मोदी सरकार की लोकप्रियता का मूल गुण है। सवाल - हिंदू और हिंदुत्व को लेकर आजकल कांग्रेस नेताओं के कई बयान सामने आ रहे हैं। आपको क्या लग रहा है कि इस तरह का बयान देने की पीछे कांग्रेस नेताओं की मंशा क्या है ? जवाब - हर कोई समझता है कि कांग्रेस कैसी झूठी पार्टी है। इसमें कोई विचारधारा, कोई ²ष्टि, कोई दिशा नहीं है। क्या आपको लगता है कि इटली की महिला के नेतृत्व वाली कांग्रेस लोगों को हिंदू धर्म के बारे में बता सकती है ? जिस पार्टी की 2004 से 2014 की सरकार ने हिंदू आतंकवाद, केसरिया आतंकवाद जैसे झूठे मनगढंत शब्द गढ दिए हों, वो अब हिंदुत्व पर दुनिया को ज्ञान बांट रहे हैं। सवाल - पांच राज्यों में होने वाले विधान सभा चुनाव को लेकर आपका क्या आकलन है ? भाजपा को कितनी कामयाबी हासिल हो पाएगी ? जवाब - भाजपा सभी राज्यों में सत्ता में आएगी क्योंकि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की नीतियाँ और योजनाएं देश के विकास में बड़े बदलाव लेकर आई है, गरीबों के जीवन में सुधार व तरक्की लेकर आईं है और लोग महसूस करते हैं कि यह केवल भाजपा ही है जो ईमानदार सुशासन दे सकती है। भाजपा जैसा ²ढ़ विश्वास किसी अन्य राजनीतिक दल में नहीं है। --आईएएनएस एसटीपी/आरजेएस

अन्य खबरें

No stories found.