assam-ulfa-self-released-the-second-engineer-of-oil-company-quipo
assam-ulfa-self-released-the-second-engineer-of-oil-company-quipo
देश

असम: आयल कंपनी क्वीपो के दूसरे अभियंता को भी उल्फा (स्व) ने किया रिहा

news

गुवाहाटी, 05 अप्रैल (हि.स.)। क्वीपो नामक ऑयल एंड गैस इंफ्रास्ट्रक्चर लिमिटेड कंपनी के दूसरे अपहृत बिहार निवासी अभियंता राम कुमार को उल्फा (स्वाधीन) द्वारा रिहा किए जाने की जानकारी सामने आई है। इसकी पुष्टि भारत-म्यांमार सीमा पर मीडिया कर्मियों ने राम कुमार से मुलाकात कर की है। फिलहाल राम कुमार असम रायफल की हिफाजत में बताये गये हैं। कानूनी औपचारिकताओं के बाद राम कुमार को असम लाया जाएगा। सूत्रों ने बताया है कि उल्फा (स्व) ने नगालैंड के मोन जिला में भारत-म्यांमार सीमा के पास लांग्होवा इलाके में रिहा किया है। राम कुमार के साथ अपहृत प्रणव कुमार गोगोई को उल्फा (स्व) ने रविवार को ही रिहा कर दिया था। उल्लेखनीय है कि गत 21 दिसम्बर को उल्फा (स्व) ने अरुणाचल प्रदेश के चांग्लांग जिला में कंपनी के कुचाईखा हइड्रोकार्बन ड्रिलिंग साइट से राम कुमार और प्रणव कुमार गोगोई का अपहरण कर लिया था। लंबी जद्दोजहद के बाद उल्फा (स्व) ने प्रणव गोगोई को शनिवार को रिहा कर दिया था जबकि राम कुमार के बारे में कोई जानकारी सामने नहीं आयी थी। शुरुआत में पुलिस सूत्रों ने दावा किया था कि दोनों अपहृत अभियंताओं को उल्फा (स्व) ने रिहा कर दिया है लेकिन दोपहर बाद यह पता चला कि प्रणव कुमार गोगोई अपने घर पहुंच गये हैं जबकि राम कुमार के बारे में न तो पुलिस प्रशासन और न ही उल्फा (स्व) की ओर से कुछ भी बताया गया। इसको लेकर विभिन्न संगठन भी उल्फा (स्व) पर आरोप लगाने आरंभ कर दिये थे। सूत्रों ने दावा किया है कि राम कुमार भी उल्फा (स्व) की कैद से आजाद हो गये हैं और वे अभी असम रायफल की हिफाजत में हैं। हालांकि अभी तक यह साफ नहीं हो पाया है कि उल्फा (स्व) ने दोनों को एक साथ रिहा किया था या बारी-बारी से। राम कुमार के बयानों के बाद ही इससे पर्दा उठ सकता है। हिन्दुस्थान समाचार/ अरविंद/रामानुज