apache-helicopter-will-now-monitor-north-sikkim
apache-helicopter-will-now-monitor-north-sikkim
देश

अब उत्तरी सिक्किम की निगरानी करेंगे ​अपाचे हेलीकॉप्टर​

news

- सिक्किम के नाकू ला सेक्टर में कई बार हो चुकी है चीनी सैनिकों से झड़प - एयर मार्शल ने सिक्किम के विभिन्न सीमा क्षेत्रों का दौरा करके लिया जायजा नई दिल्ली, 21 फरवरी (हि.स.)। उत्तरी सिक्किम में चीन सीमा पर बढ़ती चुनौतियों को देखते हुए भारतीय वायुसेना ने पहली बार निगरानी के लिए अपाचे हेलीकॉप्टरों की तैनाती की है। पूर्वी वायु कमान के एयर ऑफिसर ने दो दिवसीय दौरे में अपाचे यूनिट के एयरक्रू के साथ भी बातचीत की, जिसे पहली बार पूर्वी क्षेत्र में तैनात किया गया है। एयर मार्शल ने सिक्किम के विभिन्न सीमा क्षेत्रों का दौरा करके भारतीय सेना के वरिष्ठ अधिकारियों से बातचीत की और सेना के प्रयासों का समर्थन किया। भारत-चीन के बीच 3,488 किलोमीटर नियंत्रण रेखा है जिसमें 1,126 किलोमीटर अरुणाचल प्रदेश में है। शेष 2,362 किलोमीटर सीमा सिक्किम, हिमाचल प्रदेश, उत्तराखंड और लद्दाख में है। सीमा पर सिक्किम का नाकू ला सेक्टर शुरू से चीन की नजर में है। सिक्किम के चार में से दो जिले उत्तर और पूर्वी सिक्किम चीन के साथ सीमा से लगे हैं। करीब 10 माह से चल रहे गतिरोध बढ़ने की शुरुआत 9/10 मई, 2020 को यहीं से हुई थी जब दोनों देशों की सेनाओं के नियमित गश्त के दौरान चीन के सैनिकों ने घुसपैठ का प्रयास किया था। इसी वजह से भारतीयों और चीनी सैनिकों के बीच हाथापाई हुई थी। सेना की पूर्वी कमान ने मामले को सुलझा लिया था लेकिन आक्रामक झड़प में दोनों तरफ के सैनिकों को चोटें आई थीं। इसके बाद भी यहां पर दोनों देशों के सैनिकों के बीच ऐसा तनावपूर्ण माहौल समय-समय पर बनता रहता है। उत्तर सिक्किम में भारत-चीन सीमा के नजदीक नाकू ला में 20 जनवरी, 2021 को भारतीय और चीनी सैनिकों के बीच झड़प हुई थी।सेना ने अपने बयान में इसे मामूली झड़प बताते हुए कहा था कि यह मामला स्थानीय कमांडरों ने सुलझा लिया है। यह झड़प उस समय हुई थी जब सीमा की यथास्थिति बदलने का प्रयास करते हुए चीन के कुछ सैनिक भारतीय क्षेत्र में बढ़ने की कोशिश कर रहे थे। इसी दौरान भारतीय जवानों ने पीएलए के गश्ती को रोक दिया था। भारतीय जवान बड़ी संख्या में थे, इसलिए मजबूती से भिड़ गए। दोनों देशों के सैनिकों के बीच हुई यह झड़प सिर्फ हाथापाई तक ही सीमित रही और दोनों ओर से किसी भी तरह के हथियारों का इस्तेमाल नहीं हुआ। इसके बावजूद झड़प में 4 भारतीय और 20 चीनी सैनिक घायल हुए । इसी घटना के बाद से सीमावर्ती इलाके में अभी तनाव बरकरार है। भारतीय वायु सेना ने चीन के साथ सीमावर्ती राज्य सिक्किम में अपने सबसे उन्नत अपाचे लड़ाकू हेलीकॉप्टरों को तैनात किया है। इसी के मद्देनजर 17 और 18 फरवरी, 2021 को पूर्वी वायु कमान के एयर ऑफिसर कमांडिंग एयर मार्शल अमित देव ने सिक्किम के विभिन्न सीमा क्षेत्रों का दौरा किया। एयर मार्शल ने भारतीय सेना के वरिष्ठ अधिकारियों के साथ बातचीत की। उन्होंने हवाई तैयारियों की भी समीक्षा की और हवाई रखरखाव कार्यों को पूरा करने में हेलीकाप्टर इकाइयों द्वारा किए गए अच्छे कार्यों की सराहना की। उन्होंने सभी कर्मियों को कोविड सावधानियां जारी रखने और प्रशिक्षण के माध्यम से मुकाबला क्षमता बढ़ाने की दिशा में काम करने की सलाह दी। यात्रा के दौरान उन्होंने अपाचे हेलीकॉप्टर से पहली बार उत्तरी सिक्किम जिले में उड़ान भी भरी। उन्होंने अपाचे इकाई के एयरक्रू के साथ भी बातचीत की, जिसे पहली बार पूर्वी क्षेत्र में तैनात किया गया है। हिन्दुस्थान समाचार/सुनीत/मुकुंद