अमूर बाघ की चीन में अद्भुत वापसी

 अमूर बाघ की चीन में अद्भुत वापसी
amazing-return-of-amur-tiger-to-china

नई दिल्ली, 27 जुलाई (आईएएनएस)। वैज्ञानिकों के एक अंतर्राष्ट्रीय दल का कहना है कि पूर्वोत्तर चीन जैसे अप्रत्याशित जगह में बाघ दहाड़ते हुए वापस आ सकते हैं। चीन में हार्बिन में पूर्वोत्तर वन विश्वविद्यालय के वैज्ञानिकों, वन्यजीव संरक्षण सोसाइटी (डब्ल्यूसीएस), यूसी डेविस, अमूर टाइगर नेशनल रिजर्व, विश्व वन्यजीव कोष और अन्य समूहों ने हाल ही में जैविक संरक्षण पत्रिका में अपने परिणाम प्रकाशित कर कहा कि चार प्रमुख वन भू-²श्य -- लाओयलिंग, झांग-गुआंगकैलिंग, वांडाशान और लेसर खिंगन पर्वत - 300 से ज्यादा अमूर बाघों का समर्थन करने में सक्षम हो सकते हैं, जिनमें 119 प्रजनन मादाएं शामिल हैं। हाल के सर्वेक्षणों में कम से कम 55 व्यक्तियों की पहचान के साथ इन प्रतिष्ठित बाघों को बहाल करने के लिए चीन ने हाल के वर्षों में काफी प्रगति की है। चीन में 300 से ज्यादा बाघों के लक्ष्य को प्राप्त करने के लिए, लेखकों का कहना है कि लाल हिरण और जंगली सूअर जैसी बड़ी शिकार प्रजातियों को बहाल करने की आवश्यकता है। साथ ही व्यापक भूमि उपयोग योजना, आवास की कनेक्टिविटी में सुधार, निगेटिव मानव प्रभावों को कम और व्यापक अंतर्राष्ट्रीय सहयोग करना है। इसके अलावा, अन्य स्रोतों से बाघों के प्रजनन के बिना मादाओं के प्रजनन के बिना तेजी से रिकवरी के साधन के रूप में बाघों के पुनरुत्पादन के लिए एक व्यवहार्यता मूल्यांकन की आवश्यकता है। साल 1930 के दशक के अंत तक पूरे पूर्वोत्तर चीन में 500 से अधिक अमूर बाघ घूमते थे। हालांकि, 2000 तक, अवैध शिकार के साथ-साथ निवास स्थान और शिकार के नुकसान के कारण, रूस के साथ सीमा पर 12-16 से ज्यादा अमूर बाघ नहीं पाए गए। तब से, प्राकृतिक वन संरक्षण परियोजना ने अधिकांश क्षेत्र में लॉगिंग को रोक दिया और वन श्रमिकों को क्षेत्र से बाहर स्थानांतरित कर दिया। प्रकृति भंडार के निर्माण, अवैध शिकार विरोधी प्रयासों में सुधार और मानव-बाघ संघर्षों के लिए मुआवजे ने पूर्वोत्तर चीन में बाघों के दबाव को कम करने में मदद की है। 2013 से 2018 तक कैमरा ट्रैप सर्वेक्षणों ने पूर्वोत्तर चीन में चार वन परि²श्यों में कुल 55 व्यक्तिगत बाघों का पता लगाया, 2013 में सात व्यक्तियों से बढ़कर 2018 में 33 व्यक्ति हो गए। इसी अवधि के दौरान, पूर्वोत्तर चीन में कम से कम 20 शावक पैदा हुए थे। अमूर बाघ चार प्रमुख परि²श्यों में 47,813 वर्ग किमी में वितरित किए जाते हैं, लेकिन विशाल बहुमत लाओयलिंग लैंडस्केप में पाए जाते हैं, जहां चीनी सरकार ने हाल ही में रूस के साथ सीमा पर पूर्वोत्तर टाइगर लेपर्ड नेशनल पार्क बनाया है। 14,600 वर्ग किमी में फैला यह पार्क दुनिया में बाघों के लिए सबसे बड़े संरक्षित क्षेत्र का प्रतिनिधित्व करता है। पेपर के प्रमुख लेखक गुआंगशुन जियांग ने कहा कि, यह स्पष्ट है कि पूर्वोत्तर चीन और पूर्वोत्तर एशिया में बाघों के लिए एक व्यवहार्य भविष्य का एहसास करने के लिए अभी भी एक लंबा रास्ता तय करना है। हमें बाघों की एक मेटा-आबादी बनाने की जरूरत है और चीन में सभी चार प्रमुख वन परि²श्यों में चीनी संरक्षित क्षेत्रों में स्रोत आबादी का निर्माण करना है। डब्ल्यूसीएस टाइगर कोऑर्डिनेटर डेल मिकेल, ने जिन्होंने रूस और चीन दोनों में काम किया है और अध्ययन के सह-लेखक हैं, रूस और चीन दोनों के राष्ट्रीय नेताओं ने अमूर बाघ संरक्षण में ईमानदारी से रुचि दिखाई है, जो उनकी रिकवरी के लिए एक मजबूत क्षेत्र आधार प्रदान करता है। चीन में, अभी भी शिकार की आबादी को बहाल करने, अच्छी तरह से जुड़े आवास और अनुकूल मानव भूमि उपयोग का एक पारगम्य परि²श्य बनाने, सीमा पार आवास संपर्क को मजबूत करने और उन खतरों पर ध्यान केंद्रित करने की आवश्यकता है जो आज बाघों की संख्या को दबा रहे हैं। --आईएएनएस एसएस/आरजेएस

अन्य खबरें

No stories found.