अमर सिंह ने RSS को दान कर दिया था आजमगढ़ का पुश्तैनी बंगला, बुलेटप्रूफ खिड़की वाला घर भी है शामिल
अमर सिंह ने RSS को दान कर दिया था आजमगढ़ का पुश्तैनी बंगला, बुलेटप्रूफ खिड़की वाला घर भी है शामिल
देश

अमर सिंह ने RSS को दान कर दिया था आजमगढ़ का पुश्तैनी बंगला, बुलेटप्रूफ खिड़की वाला घर भी है शामिल

news

राजनीति में गहरी पैठ जमाने वाले अमर सिंह का निधन हो गया है। सिंगापुर में उनका इलाज चल रहा था। मीडिया रिपोर्ट्स की मानें तो अमर सिंह डेढ़ महीने से आईसीयू में भर्ती थे। किडनी ट्रांसप्लांट के बाद उनकी तबीयत बिगड़ी थी, जिसका इलाज चल रहा था। 27 जनवरी, 1956 को उत्तर प्रदेश के आजमगढ़ में जन्मे अमर सिंह 64 साल के थे। राज्य सभा सांसद रह चुके अमर सिंह ने अपनी आजमगढ़ की पुश्तैनी जमीन और मकान RSS को दान कर दिया था। उनकी ये संपत्ति आजमगढ़ के लालगंज तहसील के तरवां क्षेत्र में स्थित थी। लालगंज तहसील के उप निबंधक सुनील कुमार के अनुसार अमर सिंह की इस संपत्ति की सरकारी मालियत 2 करोड़ 91 लाख 55 हजार है। अमर सिंह ने एक बार कहा था कि वह अपनी संपत्ति अपने पिता के याद में समर्पित कर रहे हैं। दान की गई संपत्ति में 10 बीघा खेत और मकान शामिल हैं। मीडिया रिपोर्ट्स की मानें तो अमर सिंह के इस घर में बुलेटप्रूफ खिड़की और लिफ्ट भी लगे थे। संपत्ती दान करने के बाद अमर सिंह ने कहा कि आजमगढ़ की धरती मौलाना शिबली, राहुल सांकृत्यायन और कैफी आजमी जैसे लोगों की धरती रही है लेकिन अब यहां धर्म और राजनीति की गंदी राजनीति हो रही है। मानव सेवा संस्थान के निदेशक राजेश मणि ने बताया कि 6 अगस्त 2019 दिन था वक्त था जब अमर सिंह ने अपना गेस्ट हाउस आजमगढ़ में सेवा भारती को दान कर दिया था। उसी के उद्घाटन अवसर पर बतौर प्रांतीय सह मंत्री सेवा भारती गोरक्ष प्रांत में वो भी सम्मिलत हुए थे। अमर सिंह के फार्म हाउस में ताला लगा रहता था। दो मंजिला संगमरमर मोजेक लगा हुआ गेस्ट हाउस में जब भी ही वह रुकते थे। एसी, फ्रीज, कूलर, हाई पावर जनरेटर, शानदार फर्नीचर, बेड सब कुछ सुसज्जित था। रास्ट्रीय सेवा संघ से संलग्न रास्ट्रीय सेवा भारती की शाखा सेवा भारती गोरक्ष प्रांत को उन्होंने समाज सेवा के लिए दान कर दिया। सेवा भारती के कार्यों से बहुत ही प्रभावित थे।-newsindialive.in