आइजोल से झारखंड पैदल निकले सात मजदूर
आइजोल से झारखंड पैदल निकले सात मजदूर
देश

आइजोल से झारखंड पैदल निकले सात मजदूर

news

गुवाहाटी, 30 जून (हि.स.)। कोरोना के दौरान लॉकडाउन के बाद सबसे ज्यादा मुसीबतों का सामना दैनिक मजदूरी कर अपनी जीविका चलाने वाले मजदूरों को करना पड़ रहा है। पूरे देश में मजदूर अपने गृह राज्य की ओर रवाना होने के लिए विभिन्न तरह के प्रयास किए। सरकार की ओर से स्पेशल ट्रेन चलाकर मजदूरों को उनके घरों तक पहुंचाया गया। लेकिन, अभी भी मजदूर अपने घरों को लौट रहे हैं। पूर्वोत्तर के पहाड़ी राज्यों में बड़ी संख्या में दैनिक मजदूर हैं। जिसमें काफी संख्या में वे अपने घर लौट गए हैं। जबकि , अभी भी मजदूर अपने घर लौटने की कोशिश कर रहे हैं। मंगलवार की सुबह गुवाहाटी के बाहरी इलाका जोराबाट में मिजोरम की राजधानी से आइजोल से झारखंड पैदल जाते सात मजदूरों को देखा गया। राष्ट्रीय राजमार्ग-37 से पैदल गुवाहाटी की ओर जा रहे मजदूरों ने कहा कि आइजोल सभी लोग मजदूरी कर अपनी जीविका चलाते थे। उन्होंने बताया कि लॉकडाउन की वजह से काम बंद हो गया है और खाने-पीने की दिक्कत हो गई। जिसकी वजह से वह अपने राज्य झारखंड पैदल ही लौट रहे हैं। मजदूरों ने बताया कि न तो उनके पास ट्रेन का कोई टिकट है न ही किसी भी प्रकार की अन्य सुविधा है, जिसकी वजह से वे पैदल ही झारखंड जा रहे हैं। मजदूरों ने कहा कि अगर कोई ट्रक चालक उन्हें ट्रक में उठा लेगा तो वे ट्रक में चढ़कर चले जाएंगे नहीं तो वे पैदल ही झारखंड जाएंगे। हालांकि, इस संबंध में पुलिस प्रशासन को कोई जानकारी नहीं है। हिन्दुस्थान समाचार /असरार/ अरविंद-hindusthansamachar.in