नई शिक्षा नीति : बीएड डिग्री साल 2030 से शिक्षण कार्य के लिए होगी न्यूनतम अर्हता

नई शिक्षा नीति : बीएड डिग्री साल 2030 से शिक्षण कार्य के लिए होगी न्यूनतम अर्हता
नई शिक्षा नीति : बीएड डिग्री साल 2030 से शिक्षण कार्य के लिए होगी न्यूनतम अर्हता

नई शिक्षा नीति : बीएड डिग्री साल 2030 से शिक्षण कार्य के लिए होगी न्यूनतम अर्हता नई दिल्ली| नई शिक्षा नीति में कहा गया है कि चार वर्षीय समन्वित बीएड डिग्री साल 2030 से शिक्षण कार्य के लिए न्यूनतम अर्हता होगी। निम्न स्तर के शिक्षण शिक्षा संस्थानों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी। नई शिक्षा नीति के दस्तावेज के अनुसार साल 2022 तक राष्ट्रीय शिक्षक शिक्षा परिषद (एनसीटीई) शिक्षकों के लिए एक साझा राष्ट्रीय पेशेवर मानक तैयार करेगी। इसके लिए एनसीईआरटी, एससीईआरटी, शिक्षकों और सभी क्षेत्रों के विशेषज्ञ संगठनों के साथ परामर्श किया जाएगा। एलटी ग्रेड शिक्षक भर्ती 2018 की लिखित परीक्षा को दो साल पूरे, नहीं हो सकी प्रक्रिया पूरी पेशेवर मानकों की समीक्षा एवं संशोधन 2030 में होगा और इसके बाद प्रत्येक 10 वर्ष में होगा। दस्तावेज में कहा गया है कि शिक्षकों को पारदर्शी प्रक्रिया के जरिये भर्ती किया जाएगा। पदोन्नति योग्यता आधारित होगी। समय-समय पर कार्य-प्रदर्शन का आकलन के आधार पर शैक्षणिक प्रशासक बनने की व्यवस्था होगी। Thank You, Like our Facebook Page - @24GhanteUpdate 24 Ghante Online | Latest Hindi News-24ghanteonline.com

अन्य खबरें

No stories found.