दक्षिण अफ्रीका से हॉलैंड उतरने वाले 61 यात्री मिले कोविड पॉजिटिव

 दक्षिण अफ्रीका से हॉलैंड उतरने वाले 61 यात्री मिले कोविड पॉजिटिव
61-passengers-who-landed-from-south-africa-in-holland-found-kovid-positive

नई दिल्ली, 27 नवंबर (आईएएनएस)। दक्षिण अफ्रीका से नीदरलैंड पहुंचे लोगों में कम से कम 61 नए कोविड मामले सामने आए हैं। डच स्वास्थ्य मंत्रालय ने इसका खुलासा किया है, जिसके बाद नए सुपर म्यूटेंट वैरिएंट ओमाइक्रोन के प्रसार को लेकर आशंकाएं बढ़ गई हैं। द डेली मेल की रिपोर्ट में यह जानकारी दी गई है। लगभग 600 यात्री जोहान्सबर्ग से एम्स्टर्डम के पास शिपोल हवाई अड्डे पर दो विमानों पर पहुंचे - जो कि नए स्ट्रेन के लिए उपरिकेंद्र या एपीसेंटर है - विशेषज्ञों की चिंता बढ़ गई है, क्योंकि बताया जा रहा है कि डेल्टा वैरिएंट की तुलना में यह 40 प्रतिशत से अधिक वैक्सीन के प्रति प्रतिरोधी है। यानी वैक्सीन का भी इस पर कोई प्रभाव नहीं पड़ता है। रिपोर्ट में कहा गया है कि यूरोप में वैरिएंट का पहला मामला शुक्रवार को बेल्जियम में देखा गया था - बिना टीकाकरण वाली महिला में - जो कि तुर्की और मिस्र की यात्रा के दौरान संक्रमण की चपेट में आई थी। खास बात यह है कि महिला दक्षिण अफ्रीका में संक्रमित नहीं हुई है, जहां यह स्ट्रेन उभरा है। इसके अलावा जर्मनी और चेक गणराज्य दोनों ने शनिवार को संदिग्ध मामलों की पुष्टि की है। जर्मनी की प्रारंभिक अनुक्रमण (सीक्वेंसिंग) से पता चलता है कि दक्षिण अफ्रीका का एक यात्री ओमाइक्रोन से जुड़े कई उत्परिवर्तन (म्यूटेंट) के संपर्क में था। रिपोर्ट में कहा गया है कि अधिकारी शनिवार को बाद में पूर्ण सीक्वेंसिंग की प्रतीक्षा कर रहे हैं। दक्षिण अफ्रीका ने शुक्रवार को 2,828 नए कोविड मामले दर्ज किए, जो पिछले गुरुवार को दर्ज किए गए 1,374 से दोगुने से अधिक हैं। देश में संक्रमण का स्तर अभी तक आसमान छू रहा था और अब इस नए वैरिएंट ने चिंता बढ़ा दी है। हालांकि अभी तक कोई भी रोगी नए वैरिएंट के साथ अस्पताल में भर्ती नहीं हुआ है। रिपोर्ट में कहा गया है कि एस्ट्राजेनेका वैक्सीन से जुड़े ऑक्सफोर्ड के वैज्ञानिकों में से एक, प्रोफेसर सर एंड्रयू पोलार्ड ने शनिवार को एक आशावादी बयान दिया कि मौजूदा टीके गंभीर बीमारी, यहां तक कि नए वैरिएंट को रोकने में भी प्रभावी हो सकते हैं। अमेरिका अपनी सीमाओं को बंद करने की दिशा में अन्य देशों की बढ़ती सूची में शामिल हो गया है, क्योंकि राष्ट्रपति जो बाइडेन ने कहा है कि जब तक वैश्विक टीकाकरण नहीं होगा, तब तक महामारी समाप्त नहीं होगी। वहीं दूसरी ओर, रिपोर्ट के अनुसार, ऑस्ट्रेलियाई अधिकारियों - जिन्होंने इस क्षेत्र के नौ देशों की यात्रा पर भी प्रतिबंध लगा दिया है - को डर है कि वैरिएंट पहले ही देश में प्रवेश कर चुका है। --आईएएनएस एकेके/एएनएम

अन्य खबरें

No stories found.