39parivartan-yatra39-not-to-change-power-to-end-syndicate-raj-amit-shah
39parivartan-yatra39-not-to-change-power-to-end-syndicate-raj-amit-shah
देश

'परिवर्तन यात्रा' सत्ता बदलने के लिए नहीं, सिंडिकेट राज के खात्मे के लिए : अमित शाह

news

-सरकारी कर्मचारियों को सातवें वेतन आयोग का लाभ देने का दिया आश्वासन कोलकाता, 18 फरवरी (हि.स.)। दो दिवसीय दौरे पर गुरुवार को पश्चिम बंगाल पहुंचे केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने दक्षिण 24 परगना के नामखाना से पांचवी 'परिवर्तन यात्रा' को हरी झंडी दिखाई। इस दौरान उन्होंने अपने संबोधन में कहा कि भाजपा की परिवर्तन यात्रा का लक्ष्य बंगाल में सत्ता परिवर्तन नहीं बल्कि हालात बदलना है। उन्होंने कहा है कि परिवर्तन यात्रा का मकसद सिंडिकेट, भ्रष्टाचार और हिंसा राज से मुक्ति है। अमित शाह ने कहा, "आज रामकृष्ण परमहंस जी और चैतन्य महाप्रभु की जयंती है। बंगाल के ही इन दो महापुरुषों ने आध्यात्मिक और भक्ति मार्ग के क्षेत्र में देश का नाम ऊंचा किया था। आज परिवर्तन यात्रा का पांचवा चरण शुरू हो रहा है। ये यात्रा बंगाल के हर विधानसभा क्षेत्र से गुजरने वाली है। विधानसभा क्षेत्रों से ये परिवर्तन रथ गुजरने वाला है। ये परिवर्तन यात्रा प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी का संदेश लेकर आ रही है। मछुआरे भाइयों को नाव चलाने के लिए किसी को रिश्वत न देनी पड़े, ये परिवर्तन है। आदिवासियों को रहने के लिए कट मनी न देनी पड़े, इसे परिवर्तन कहते हैं। प्राकृतिक आपदा के समय आपका अधिकार कोई और न ले जाए, इसे परिवर्तन कहते हैं। किसानों की फसल का सही दाम किसानों को मिले, बिचौलियों को न मिले, इसे परिवर्तन कहते हैं।" शाह ने कहा कि बंगाल में भाजपा की सरकार बनते हैं मछुआरों को प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि का लाभ दिया जाएगा। साथ ही उन्होंने कहा कि भाजपा की सरकार बनने के बाद बेरोकटोक लोक दुर्गा पूजा सरस्वती पूजा कर सकेंगे। उन्होंने कहा कि फिलहाल बंगाल में पूजा के लिए कोर्ट का सहारा लेना पड़ता है क्योंकि ममता बनर्जी तुष्टीकरण की राजनीति करती हैं। सरकारी कर्मचारियों को सातवें वेतन आयोग का लाभ देने का आश्वासन इस दौरान शाह ने राज्य के सरकारी कर्मचारियों को भाजपा की सरकार बनने पर सातवां वेतन आयोग के मुताबिक वेतन देने का आश्वासन दिया। उन्होंने कहा, "आप एक बार बंगाल में भाजपा की सरकार बना दीजिए, बंगाल के सभी सरकारी कर्मचारियों को सातवें वेतनमान का लाभ दिया जाएगा। शिक्षक भाइयों को उचित वेतनमान मिले, इसके लिए एक कमेटी का गठन भाजपा सरकार करेगी।" भाजपा कार्यकर्ताओं के हत्यारों को पाताल से खींचकर सजा देंगे कुछ महीनों पहले दक्षिण 24 परगना से सटे बशीरहाट क्षेत्र में भाजपा के 5 कार्यकर्ताओं को गोलियों से भूनने की घटना का जिक्र करते हुए शाह ने कहा कि बंगाल में भाजपा के 130 से अधिक कार्यकर्ताओं को मौत के घाट उतारा गया है। इनके हत्यारे तृणमूल कांग्रेस के गुंडों को पाताल से खोज कर सजा देंगे। ममता दीदी सोचती हैं कि किसी को मार देने से भाजपा रुक जाएगी। मैं उनसे कहना चाहता हूं कि ममता दीदी तृणमूल के गुंडों ने हमारे 130 कार्यकर्ताओं को मारा है, उनकी शहादत व्यर्थ नहीं जाएगी। बंगाल की धरती पर ताकत के साथ कमल खिलने वाला है। जो गुंडे ममता दीदी की शह पर आज छिपकर बैठे हैं, उनको मैं कहना चाहता हूं कि जहां छिपना है छिप जाओ। भाजपा की सरकार बनने के बाद पाताल में से भी ढूंढकर जेल में डालेंगे। अम्फान राहत सामग्री भ्रष्टाचार में जेल जाएंगे अपराधी अमित शाह ने कहा कि जिन लोगों ने सागर तट पर बसे दक्षिण 24 परगना और आसपास के क्षेत्रों के लोगों के लिए भेजे गए चक्रवाती तूफान अम्फान राहत सामग्री में भ्रष्टाचार किया है, वे भाजपा की सरकार बनने के बाद जेल जाएंगे। शाह ने कहा कि उच्च स्तरीय कमेटी का गठन किया जाएगा और जो भी भ्रष्टाचारी है उन्हें जेल में ठूंसा जाएगा। ममता के भतीजे अभिषेक पर भी बोला हमला अमित शाह ने मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के भतीजे अभिषेक बनर्जी पर भी इशारे इशारे में तीखा प्रहार किया। उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार ने बंगाल के विकास और अन्य कार्यों के लिए तीन लाख करोड़ रुपये भेजे लेकिन सारे रुपये भाइपो (भतीजे) की सिंडिकेट कंपनी खा गई। शाह ने कहा, "बंगाल के विकास के लिए मोदी जी ने ढेर सारे पैसे भेजे। मगर ये पैसे दीदी के सिंडिकेट की भेंट चढ़ गए। टीएमसी का एक ही नारा है, भतीजा बढ़ावा। भतीजे के कल्याण के अलावा टीएमसी के मन में और कोई अभिलाषा नहीं है। नरेन्द्र मोदी जी का नारा है, सबका साथ, सबका विकास, सबका विश्वास। गंगासागर को हम अंतरराष्ट्रीय पर्यटन सांस्कृतिक क्षेत्र के रूप में विकसित करने जा रहे हैं। गंगासागर को केंद्र सरकार की प्रसाद योजना के तहत भी लाएंगे। उत्तरायण के दिन यहां जो मेला लगता है, उसे हम अंतरराष्ट्रीय स्तर के मेले का दर्जा देंगे।" हिन्दुस्थान समाचार/ ओम प्रकाश/सुगंधी/रामानुज-hindusthansamachar.in

AD
AD