पिछले 24 घंटे में 13,089 नए कोरोना संक्रमितों की पहचान, पटना में 2186

 पिछले 24 घंटे में 13,089 नए कोरोना संक्रमितों की पहचान, पटना में 2186
13089-new-corona-infected-identified-in-last-24-hours-2186-in-patna

गोविन्द चौधरी पटना, 29 अप्रैल (हि.स.)। बिहार में पिछले 24 घंटे के दौरान 13,089 नए कोरोना संक्रमितों की पहचान हुई है। इस संख्या में कल सामने आए मामलों के मुकाबले मामूली अंतर है। बिहार में बुधवार को 13,374 नए मरीज मिले थे। राजधानी पटना में 2186 सर्वाधिक नए संक्रमित आज मिले हैं। पटना के अलावा गया में 1128, बेगूसराय में 666, मुजफ्फरपुर में 478, नालंदा में 509, पूर्णिया में 483 पश्चिमी चंपारण में 590,भागलपुर 305, सारण 451,सुपौल 416, वैशाली 343 नए संक्रमितों की पहचान हुई। पिछले 24 घंटे में 97,972 सैंपल की जांच हुई। राज्य स्वास्थ्य समिति के कार्यपालक निदेशक ने ऑनलाइन मीडिया से बातचीत में बताया कि 18 वर्ष से अधिक के व्यक्तियों का निबंधन जारी रहेगा। साथ ही उन्होंने यह भी स्पष्ट कर दिया कि कोविशील्ड वैक्सीन की डोज के लिए आर्डर दे दिया गया है। उसकी पहली खेप पहुंचते ही टीकाकरण अभियान शुरू कर दिया जाएगा। उन्होंने बताया कि आइजीआईएमएस, पटना को डेडिकेटेड कोविड अस्पताल बनाया गया है और सभी बेड का उपयोग कोरोना मरीजों के इलाज के लिए शुरू करने का निर्देश दिया गया है। कुमार ने बताया कि ऑक्सीजन की मांग का पुनः आकलन करने और संशोधित मांग पत्र तैयार करने का निर्देश सभी मेडिकल कॉलेज अस्पतालों को दिया गया है। पटना के कमिश्नर और परिवहन विभाग के सचिव कोरोना संक्रमित बिहार में कोरोना संक्रमण की दूसरी लहर काफी तेजी से फ़ैल रही है। राजधानी पटना में हालात ठीक नहीं हैं। पटना के कमिश्नर और परिवहन विभाग के मुख्य सचिव संजय कुमार अग्रवाल कोरोना संक्रमित हो गए हैं। इनकी पत्नी और बच्चे भी संक्रमित हैं। भारतीय प्रशासनिक सेवा के अधिकारी संजय कुमार अग्रवाल की पत्नी और उनके बच्चे भी कोरोना पॉजिटिव हो गए हैं। फिलहाल सबको होम आइसोलेशन में रखा गया है। जो भी लोग इनके संपर्क में आये हैं, उन्हें भी कोरोना टेस्ट कराने को कहा गया है। एनएमसीएच में 12 की मौत राजधानी पटना स्थित नालंदा मेडिकल कॉलेज हॉस्पिटल (एनएमसीएच) में पिछले 24 घंटे के दौरान 12 मरीजों की मौत हुई है, जिसमें सबसे ज्यादा पटना के रहने वाले लोगों की जान गई है। नालंदा मेडिकल कॉलेज हॉस्पिटल के नोडल पदाधिकारी डॉ.मुकुल कुमार सिंह के मुताबिक गुरुवार को एनएमसीएच में इलाज के दौरान कुल 12 लोगों की मौत हो गई। इसमें सबसे ज्यादा पटना के रहने वाले 11 लोगों की जान गई। इसके अलावा सीवान के रहने वाले एक मरीज की जान गई। नोडल पदाधिकारी डॉ. मुकुल कुमार सिंह ने बताया कि गुरुवार को कुल 32 नए मरीजों को भर्ती किया गया है। इसके कारण अस्पताल में इलाजरत मरीजों की संख्या 366 हो गई है, जिसमें आईसीयू में भर्ती मरीज भी शामिल हैं। आज एनएमसीएच से 29 कोरोना मरीज ठीक होकर अपने घर चले गए। अस्पताल प्रबंधन ने बताया कि अस्पताल में फिलहाल 134 बेड खाली है। हिन्दुस्थान समाचार