12वीं बोर्ड रिजल्ट : देशभर के स्कूल 25 जुलाई तक करेंगे अंको का मॉडरेशन

 12वीं बोर्ड रिजल्ट : देशभर के स्कूल 25 जुलाई तक करेंगे अंको का मॉडरेशन
12th-board-result-schools-across-the-country-will-do-moderation-of-marks-till-july-25

नई दिल्ली, 22 जुलाई (आईएएनएस)। सीबीएसई द्वारा 12वीं बोर्ड रिजल्ट तैयार करने के लिए देशभर के स्कूलों को अब तीन दिन का अतिरिक्त समय दिया गया है। सीबीएसई ने पहले स्कूलों को 22 जुलाई तक रिजल्ट संबंधित कार्य पूरा करने को कहा था। हालांकि अब अब इसे बढ़ाकर 25 जुलाई कर दिया गया है। सीबीएसई का कहना है कि समय पर 12वीं कक्षा का रिजल्ट देने के लिए स्कूल लगातार काम कर रहे हैं। स्कूलों पर बहुत अधिक वर्कलोड है जिसके कारण उन्हें अब अतिरिक्त समय प्रदान किया गया है। सीबीएसई के परीक्षा नियंत्रक डॉ संयम भारद्वाज ने इस विषय पर एक नोटिस जारी करते हुए कहा कि स्कूल पूरी क्षमता के साथ रिजल्ट तैयार करने के कार्य में जुटे हैं। समय खत्म होने व लास्ट डेट आ जाने के कारण उनसे गलतियां हो रही हैं। शिक्षक इन गलतियों को सही करने के लिए सीबीएसई को अनुरोध भेज रहे हैं। इन समस्याओं के मद्देनजर अब रिजल्ट तैयार करने की लास्ट डेट 22 जुलाई से बढ़ाकर 25 जुलाई 2021 की जा रही है। सीबीएसई ने स्पष्ट निर्देश जारी करते हुए कहा सभी स्कूलों 25 जुलाई तक की समय अवधि में अंकों के मॉडरेशन का कार्य पूरा कर लें। जो स्कूल इस अवधि में मॉडरेशन का कार्य पूरा नहीं कर सकेंगे उन स्कूलों का रिजल्ट बाद में अलग से जारी किया जाएगा। सीबीएसई बोर्ड को अपने तय कार्यक्रम के मुताबिक 10वीं बोर्ड का रिजल्ट 20 जुलाई तक घोषित करना था। हालांकि अब सीबीएसई बोर्ड ने स्पष्ट किया है कि दसवीं का रिजल्ट घोषित करने में अभी कुछ और दिन का समय लगेगा। सीबीएसई को 31 जुलाई तक 12वीं की बोर्ड कक्षाओं का भी रिजल्ट जारी करना है। यदि 12वीं के बोर्ड रिजल्ट में भी विलंब हुआ तो इसके चलते विश्वविद्यालयों के दाखिले में और अधिक देरी हो सकती है। देश के विभिन्न विश्वविद्यालयों में प्रथम वर्ष के छात्रों के लिए नया बैच 1 अक्टूबर 2021 से शुरू हो जाएगा। यूजीसी के सचिव रजनीश जैन ने एक नोटिस जारी करते हुए सभी विश्वविद्यालयों, कॉलेजों और शैक्षणिक संस्थानों को स्पष्ट निर्देश दिया है कि 12 वीं सीबीएसई बोर्ड और अन्य राज्य बोडरें के परिणाम घोषित होने के बाद ही नए बैच के लिए प्रवेश प्रक्रिया शुरू की जाए। 12वीं बोर्ड का रिजल्ट तैयार करने के लिए सीबीएसई ने सभी हितधारकों से व्यापक परामर्श के बाद रिजल्ट तैयार करने की नीति अपनाई है। इसके तहत अंतिम परिणाम की गणना करते समय, कक्षा 10 के 3 सबसे अच्छे थ्योरी विषयों के अंको का औसत , कक्षा 11 की थ्योरी के 30 फीसदी का वेटेज व कक्षा 12वीं की थ्योरी का 40 फीसदी वेटेज लिया जाएगा। प्रैक्टिकल में दिए गए अंक जैसे हैं,वैसे ही लिए जाएंगे। --आईएएनएस जीसीबी/एएनएम