127-braves-of-central-reserve-police-force-received-gallantry-medals
127-braves-of-central-reserve-police-force-received-gallantry-medals
देश

केन्द्रीय रिजर्व पुलिस बल के 127 बहादुरों को मिला वीरता पदक

news

नई दिल्ली, 18 फरवरी (हि.स.)। स्वतंत्रता दिवस 2020 और गणतंत्र दिवस 2021 के मौके पर केन्द्रीय रिज़र्व पुलिस बल (सीआरपीएफ) के जवानों को दिए गये ‘वीरता के लिये राष्ट्रपति पुलिस पदक’ (पीपीएम) गुरुवार को वितरित किये गए। सीआरपीएफ के महानिदेशक डॉ. एपी माहेश्वरी ने 127 वीरता पदक विजेताओं और मरणोपरांत वीरता पदक से सम्मानित वीरों के परिवारों को दिल्ली में आयोजित समारोह में सम्मानित किया। इस दौरान सीआरपीएफ के 127 बहादुरों को 128 वीरता पदक प्रदान किए गए, जिनमें 4 कीर्ति चक्र, 1 पीपीएमजी और 123 पीपीएम शामिल हैं। महानिदेशक ने पदक विजेताओं को स्मृति चिन्ह और शहीदों के परिजनों को स्मृति चिन्ह, शॉल व आर्थिक सहायता प्रदान की। इस मौके पर सीआरपीएफ के केंद्रीय बैंड ने ‘वंदे मातरम’ की एक आकर्षक प्रस्तुति भी दी। वीरों की प्रशंसा करते हुए महानिदेशक ने कहा कि सीआरपीएफ का अनुकरणीय साहस, प्रतिबद्धता, व दृढ़ता से भरपूर एक शानदार इतिहास है। अब तक सीआरपीएफ को कुल 2112 वीरता पदक मिल चुके हैं। बल के 2224 बहादुरों ने राष्ट्र सेवा में सर्वोच्च बलिदान दिया है। एफओबी को भी मिला प्रशस्ति पत्र सीआरपीएफ के प्रवक्ता एम दिनाकरन के अनुसार किसी समय माओवादियों का गढ़ रहे मिनपा में सफलतापूर्वक स्थापित फॉरवर्ड ऑपरेटिंग बेस (एफओबी) को बेस्ट फॉरवर्ड ऑपरेटिंग बेस घोषित करते हुए महानिदेशक ने प्रशस्ति पत्र भी प्रदान किया है। महानिदेशक ने मिनपा एफओबी की प्रशंसा करते हुए इसे बल के संकल्प का प्रतीक बताया। चूंकि यह प्रतिकूल परिस्थितियों और अनेक हमलों के उपरांत भी रिकॉर्ड समय में स्थापित किया गया। उन्होंने कहा कि यह एफओबी दुश्मन के दिल में खंजर की तरह काम करेगा और उसके अपराजेय होने के भ्रम को तोड़ेगा। सीआरपीएफ का ध्यान अब जम्मू-कश्मीर में ऑपरेशन पर सीआरपीएफ अब जम्मू-कश्मीर में अन्य सुरक्षा बलों के साथ मिलकर ग्रामीण इलाकों में लक्षित ऑपरेशन पर ध्यान केंद्रित कर रहा है। अवांछित क्षति से बचने के लिए मानव और भौगोलिक इलाकों का मानचित्रण करने के अलावा कार्मिकों को सुरक्षा उपकरण और बल गुणक जैसे कि अत्याधुनिक उपकरणों से लैस बुलेट प्रूफ घटना प्रतिक्रिया कमांड वाहन प्रदान किये गए हैं जो योद्धाओं को निर्णायक बढ़त और सुरक्षा प्रदान करेंगे। हिन्दुस्थान समाचार/अश्वनी/सुनीत-hindusthansamachar.in

AD
AD