'सबका साथ-सबका विकास' के सिद्धांत पर किया कार्य, फिर जीतूंगा : महेन्द्रपाल सिंह
'सबका साथ-सबका विकास' के सिद्धांत पर किया कार्य, फिर जीतूंगा : महेन्द्रपाल सिंह
देश

'सबका साथ-सबका विकास' के सिद्धांत पर किया कार्य, फिर जीतूंगा : महेन्द्रपाल सिंह

news

गोरखपुर, 13 सितम्बर (हि.स.)। योगी सरकार के साढ़े तीन साल पूरे होने को हैं। भाजपा सरकार के क्रिया-कलापों, उपलब्धियो को जानने की उत्सुकता के साथ लोग अपने विधायकों द्वारा किए गए कार्यों को भी बेताब हैं। बहुभाषीय संवाद समिति (न्यूज एजेंसी) हिन्दुस्थान समाचार ने लोगों की उत्सुकता को शांत कराने को अभियान चला रखा है। गोरखपुर जिले के पिपराइच विधानसभा से विधायक महेंद्र पाल सिंह से प्रतिनिधि पुनीत श्रीवास्तव ने भी बात की। प्रस्तुत है बातचीत के प्रमुख अंश- सवाल : साढ़े तीन साल में क्षेत्र के विकास के लिए क्या किया गया है? कुछ बड़ी परियोजना के नाम बताइए। जो ज़मीन पर दिख रहे हो? उत्तर : मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की अगुवाई वाली सरकार की पहली बैठक में ही बंद पिपराइच चीनी मिल को पुनः शुरू करने का विचार हुआ। अब यह शुरू है। 50,000 कुंतल गन्ने की पेराई प्रतिदिन हो रही है। कोलुआ घाट पर 21 करोड़ की लागत से पुल का निर्माण हुआ है। जंगल डुमरी में आईटीआई स्कूल की स्थापना, 60 किलो मीटर सड़को का चौड़ीकरण, 150 किलोमीटर सड़कों का निर्माण किया जा चुका है। क्षेत्र का विकास जारी है। सवाल : डेढ़ साल बाद चुनाव है। किन मुद्दों को लेकर जनता के बीच जाएंगे? जवाब : क्षेत्र में अपनी और पार्टी दोनों की उपलब्धियों और उद्देश्यों को लेकर जाएंगे। सरकार की ज़ीरो टोलरेन्स की निति, बिजली, सड़क, स्वच्छता, आवास, शिक्षा आदि क्षेत्रो में किये कार्यो को जनता के सम्मुख ले जाएंगे। सबका साथ, सबका विकास और सबका विश्वास के साथ जाएँगे। विकास ही मुख्य मुद्दा होगा। मैं फिर से जीतूंगा। सवाल : प्रदेश में आप की पार्टी की सरकार और अन्य पार्टियों की अगुवाई वाली सरकारो में मूलभूत अंतर क्या है? उत्तर : समाजवादी पार्टी (सपा), कांग्रेस या बहुजन समाज पार्टी (बसपा) किसी न किसी एक व्यक्ति द्वारा नियंत्रित होती हैं। लेकिन भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) में सामूहिक निर्णय की व्यवस्था है। भाजपा को छोड़कर कम-ओ-बेश सभी पार्टियां जातिगत राजनीति में विश्वास करतीं हैं। लेकिन इस मामले में भी भाजपा अन्य पार्टियों से अलग है। यहां 'सबका साथ, सबका विकास और सबका विश्वास' के सिद्धांत पर कार्य होता है। सवाल : अयोध्या में श्रीराम मंदिर निर्माण शुरू है। आगामी विधानसभा चुनाव को कितना प्रभावित करेगा? उत्तर : सैकड़ो वर्षो से चल रहे अयोध्या मुद्दे को भाजपा ने खत्म कर दिया है। यह आस्था का विषय है, राजनीति का नहीं। बावजूद इसके मैं इतना ही कहूंगा कि अब फैसला जनता जनार्दन के हाथ में है। बोली जनता पिपराइच विधानसभा के लक्ष्मीपुर व्यवसायी संदीप का कहना है कि "विधायक महेंद्र पाल सिंह के कार्य सराहनीय है। वे जनता की समस्याओं को पूरी ईमानदारी से सुनते हैं। सभी का सम्मान करते हैं। क्षेत्र में निरंतर अपनी उपस्थिति बनाए रखने वाले राजनेता हैं। योगी सरकार में विकास कार्य हुए हैं। इसका फायदा इस विधानसभा को भी मिला है। ऐसा बदलाव मैंने पहले कभी नहीं देखा। योगी और मोदी की अगुवाई में क्षेत्र में शानदार सफलता मिली है। यह बदस्तूर जारी है।" हरसेवकपुर निवासी हेमंत को विधायक से शिकायत है। इनका कहना है कि "ये क्षेत्र में बहुत कम समय देते हैं। समस्याएं भी मुंह बाए खड़ी हैं। और बहुत सी समस्याओं का समाधान अभी नहीं हुआ है। बार-बार कहने पर भी कोई कार्य आगे नहीं बढ़ पा रहा है। हालाकि प्रदेश और केंद्र की सरकारें अच्छा कार्य कर रहीं हैं।" हिन्दुस्थान समाचार/पुनीत/आमोद/राजेश-hindusthansamachar.in