हिमाचल में कोरोना का विकराल रूप, 21 दिन में 11642 नए मामले, 35 फीसदी बढ़ा संक्रमण
हिमाचल में कोरोना का विकराल रूप, 21 दिन में 11642 नए मामले, 35 फीसदी बढ़ा संक्रमण
देश

हिमाचल में कोरोना का विकराल रूप, 21 दिन में 11642 नए मामले, 35 फीसदी बढ़ा संक्रमण

news

उज्ज्वल शर्मा शिमला, 22 नवम्बर (हि.स.)। हिमाचल प्रदेश में कोरोना महामारी ने विकराल रूप धारण कर लिया है। नवम्बर माह में कोरोना के मामलों में अप्रत्याशित बढ़ोतरी ने शासन-प्रशासन की नींद उड़ा दी है। राज्य में नवम्बर के 21 दिनों में कोरोना का संक्रमण 35 फीसदी बढ़ा है। हालांकि 89 फीसदी कोरोना मरीज अस्पतालों की बजाय अपने घरों में उपचार कर रहे हैं। बीते तीन हफ्तों में कोरोना के 11,642 नए मामले उजागर हुए हैं। वहीं 197 लोगों की जान गई है। इस अवधि में कोरोना के सक्रिय मामले अढाई गुना बढ़ गए शिमला, मंडी और कुल्लू जिलों में कोरोना का जबरदस्त कहर देखा गया। जनप्रतिनिधियों से लेकर अफसरशाही, कर्मचारी और आम लोग कोरोना की चपेट में आ रहे हैं। मौजूदा समय में राजधानी शिमला में कोरोना से हालात खराब होते जा रहे हैं। कोरोना के सक्रिय रोगियों और इस महामारी से होने वाली मौतों के मामले में शिमला जिला टॉप पर है। स्वास्थ्य विभाग के अनुसार हिमाचल में 31 अक्टूबर के बाद से कोविड-19 के मामलों में अचानक उछाल देखा गया है। उस दिन से राज्य में औसतन 554 लोग कोरोना वायरस से संक्रमित पाए जा रहे हैं। बीते कल शनिवार को पहली बार संक्रमण के रिकॉर्ड 915 मामले सामने आए। चिकित्सा विशेषज्ञ बीते तीन सप्ताह में संक्रमण के मामलों में रोजाना तेज उछाल के लिए त्योहारों के सीजन में बड़ी संख्या लोगों के बाहर निकलने, लोगों के विभिन्न रोगों से ग्रस्त होने तथा बाजारों तथा अन्य सार्वजनिक स्थलों पर सुरक्षा नियमों को लेकर लापरवाही बरते जाने को जिम्मेदार बता रहे हैं। राज्य के मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने भी साफ किया है कि आगामी दिनों में सरकार कोरोना को लेकर नियम और सख्त करेगी। स्वास्थ्य विभाग के सचिव अमिताभ अवस्थी ने रविवार को बताया कि 31 अक्टूबर से 21 नवम्बर के बीच संक्रमण के 11,642 नए मामले सामने आए हैं, जबकि 197 लोगों की मौत हुई है। उन्होंने कहा कि राज्य में कोरोना संक्रमितों का ताज़ा आंकड़ा 33,700 पहुंच गया है। इनमें सक्रिय मामले 7,070 हैं। कोरोना से 26,089 मरीज स्वस्थ हुए हैं और रिकवरी रेट 77.41 फीसदी है। कोरोना से राज्य में 509 रोगियों की मौत हुई है। शिमला में सर्वाधिक 125 और कांगड़ा में 98 मरीजों ने दम तोड़ा है। उन्होंने बताया कि वर्तमान में 89 फीसदी संक्रमित रोगी होम आइसोलेशन में रहकर नियमित स्वास्थ्य लाभ प्राप्त कर रहे हैं। केवल 11 फीसदी कोरोना रोगी कोविड अस्पतालों में भर्ती हैं। अवस्थी ने बताया कि कोरोना संक्रमितों के मामले में मंडी जिला पहले स्थान पर है, जहां सबसे ज्यादा 5,392 मामले दर्ज हैं। शिमला जिला में संक्रमितों का आंकड़ा 5,352, सोलन में 4,371, कांगड़ा में 4,332, कुल्लू में 2,955, सिरमौर में 2,508, ऊना में 1,923, बिलासपुर में 1,746, चम्बा में 1,742, हमीरपुर में 1,735, लाहौल-स्पीति में 950 और किन्नौर में 694 है। हिन्दुस्थान समाचार-hindusthansamachar.in