हिमाचल में अगले चार दिन भारी वर्षा की चेतावनी, भूस्खलन से 74 सडकें बंद

हिमाचल में अगले चार दिन भारी वर्षा की चेतावनी, भूस्खलन से 74 सडकें बंद
हिमाचल में अगले चार दिन भारी वर्षा की चेतावनी, भूस्खलन से 74 सडकें बंद

शिमला, 25 जुलाई (हि.स.)। हिमाचल प्रदेश में दो दिन थमने के बाद मानसून ने फिर से रफ्तार पकड़ ली है। राज्य के अधिकांश क्षेत्रों में बीते 24 घंटों में व्यापक बारिश हुई है। इस दौरान बिलासपुर के घुमारवीं में रिकार्ड 225 मिमी बारिश दर्ज की गई, जो इस मानसून सीजन में सर्वाधिक है। बारिश के कारण राज्य भर में जगह-जगह हो रहे भूस्खलन से 74 सड़कें बंद हो गई हैं। इनमें एक नेशनल हाईवे भी शामिल है। सबसे अधिक 49 सड़कें कांगड़ा जोन में अवरूद्व हैं। शिमला व हमीरपुर जोन में 9-9 और मंडी जोन में छह सड़कों पर वाहनों की आवाजाही ठप्प रही। इसी तरह शाहपुर जोन में एक नेशनल हाईवे भी भूस्खलन से बंद है। मौसम विभाग का पूर्वानुमान है कि अगले चार दिन तक प्रदेश के मैदानी और मध्यपर्वतीय क्षेत्रों में बादल जमकर बरसेंगे। 10 जिलों में भारी बारिश का येलो अलर्ट जारी किया गया है। मौसम विज्ञान केंद्र शिमला के निदेशक मनमोहन सिंह ने शनिवार को बताया कि 26 से 29 जुलाई तक राज्य में व्यापक बारिश होने की संभावना है। मध्यपर्वतीय क्षेत्रों (शिमला, मंडी, कुल्लू सहित चंबा, सोलन व सिरमौर के कुछ भाग) में 26 व 27 जुलाई को भारी बारिश का येलो अलर्ट रहेगा। 28 व 29 जुलाई को मैदानी इलाकों (ऊना, बिलासपुर, हमीरपुर, कांगड़ा, सोलन और सिरमौर के कुछ भाग) तथा मध्यपर्वतीय इलाकों के लिए येलो अलर्ट जारी किया गया है। मनमोहन सिंह ने बताया कि 31 जुलाई तक समूचे प्रदेश में मौसम खराब बना रहेगा। हिन्दुस्थान समाचार/उज्जवल/सुनील-hindusthansamachar.in

अन्य खबरें

No stories found.