सोशल मीडिया पर ट्रेंड कर रहा 'राष्ट्रीय बेरोजगारी दिवस'
सोशल मीडिया पर ट्रेंड कर रहा 'राष्ट्रीय बेरोजगारी दिवस'
देश

सोशल मीडिया पर ट्रेंड कर रहा 'राष्ट्रीय बेरोजगारी दिवस'

news

- राहुल गांधी ने भी युवाओं के लिए मांगा 'नौकरी का सम्मान' नई दिल्ली, 17 सितम्बर (हि.स.)। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी का आज जन्मदिन है। आज वह 70 साल के हो गए हैं। देशभर से उन्हें बधाइयां मिल रही हैं। लेकिन सोशल मीडिया और पर एक अलग ही ट्रेंड चल रहा है जो केंद्र की मोदी सरकार के युवा विरोधी होने का परिचय दे रहा है। कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने भी सरकार को युवा विरोधी बताते हुए लोगों को रोजगार देने की बात कही है। उन्होंने सवाल भी किया किंआख़िर ये सरकार कब देगी रोजगार का सम्मान? दरअसल सोशल मीडिया पर लोग गुरुवार को #राष्ट्रीय_बेरोजगारी_दिवस यानी #NationalUnemploymentDay मना रहे हैं। लाखों की संख्या में युवा सरकार से रोजगार की मांग करते हुए माइक्रोब्लॉगिंग साइट पर अपनी राय व्यक्त कर रहे हैं। इस क्रम में कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने भी ट्वीट कर सरकार से युवाओं को रोजगार मुहैया कराने की मांग की है। उन्होंने कहा कि बिना रोजगार के 'आत्मनिर्भर भारत' का सपना पूरा नहीं होगा। राहुल ने ट्वीट में लिखा, 'बेरोजगारी की बढ़ती दर की वजह से देश का युवा आज #राष्ट्रीय_बेरोजगारी_दिवस मनाने को मजबूर है। रोज़गार सम्मान है। सरकार कब तक यह सम्मान देने से पीछे हटेगी?' अपने ट्वीट के साथ राहुल ने एक समाचार रिपोर्ट भी साझा की है, जिसमे लिखा है कि देश में नौकरी मांगने वालों की संख्या करोड़ों में है, जबकि सिर्फ 1.77 लाख नौकरियां ही उपलब्ध हैं। रिपोर्ट में दावा किया गया है नौकरी मांगने में सबसे ज्यादा बंगाल (23.61 लाख), उत्तर प्रदेश (14.62 लाख), बिहार (12.32 लाख), दिल्ली (90 हजार) के लोग हैं। उल्लेखनीय है कि कोरोना काल में काफी संख्या में लोगों ने अपनी नौकरियां गंवाई। इसी के बाद युवा सरकार से नौकरी मांग रहे हैं। प्रमुख विपक्षी पार्टी कांग्रेस भी 'रोजगार दो' अभियान छेड़े हुए है। हिन्दुस्थान समाचार/आकाश/सुनीत-hindusthansamachar.in