सेना पर बनने वाले किसी भी फिल्म,वृत्तचित्र, वेब श्रृंखला के प्रसारण से पहले अब लेना होगा रक्षा मंत्रालय की अनुमति
सेना पर बनने वाले किसी भी फिल्म,वृत्तचित्र, वेब श्रृंखला के प्रसारण से पहले अब लेना होगा रक्षा मंत्रालय की अनुमति
देश

सेना पर बनने वाले किसी भी फिल्म,वृत्तचित्र, वेब श्रृंखला के प्रसारण से पहले अब लेना होगा रक्षा मंत्रालय की अनुमति

news

नई दिल्ली: नरेंद्र मोदी सरकार के रक्षा मंत्रालय ने केंद्रीय फिल्म प्रमाण बोर्ड व आईबी मंत्रालय को पत्र लिखकर कहा है कि आगे से किसी भी तरह के सेना या सेना से जुड़े मुद्दों पर बनने वाली फिल्म, वृत्तचित्र या वेब श्रृंखला आदि के प्रसारण से पहले अब मंत्रालय की अनुमति लेना अनिवार्य है। दरअसल, पिछले कुछ समय में कई ऐसी फिल्म व वेब सीरीज सेना पर बनाए गए जिसको लेकर काफी विवाद हुआ। यही वजह है कि रक्षा मंत्रालय सेना पर बनाए जा रहे किसी भी विवादित फिल्म आदि को जांचने के बाद ही अनुमति देने को लेकर विचार कर रही है। जिससे कि सेना की छवि खराब न हो और साथ ही सुरक्षाबलों के मनोबल पर किसी तरह से नकारात्मक असर न पड़े। इसी संबंध में कार्रवाई के लिए संबंधित मंत्रालय व विभाग को पत्र लिखा गया है। बता दें कि प्रोड्यूसर एकता कपूर पिछले कुछ वक्त से सेना पर विवादित वेब सीरीज के लिए सुर्खियों में हैं। दरअसल बिग बॉस फेम हिंदुस्तानी भाऊ ने एकता और उनके प्रोडक्शन हाउस के खिलाफ पुलिस कंप्लेंट की है। भाऊ ने ये शिकायत ALT Balaji की एक वेब सीरीज में आर्मी यूनिफॉर्म का अपमान किए जाने को लेकर की है। सीरीज में एक महिला को अपने पति को चीट करते हुए दिखाया गया है। इस सीक्वेंस में महिला न सिर्फ आर्मी यूनिफॉर्म को फाड़ रही है बल्कि उसके साथ कई आपत्तिजनक सीन दिखाए गए हैं। शिकायतकर्ता की शिकायत के बाद मामला काफी चर्चा में आ गया है। हालांकि आपको बता दें कि ये पहला मामला नहीं है जब आर्मी यूनिफॉर्म के चलते कोई सीरीज विवादों में आई है। इससे पहले फिल्म सैम मानेकशॉ से जब विक्की कौशल का फर्स्ट लुक सामने आया तो भी यूनिफॉर्म से जुड़ा विवाद उठा था। आपको याद दिला दें कि फिल्म रुस्तम में अक्षय कुमार ने एक नेवल ऑफिसर की भूमिका निभाई थी और इसमें भी उनकी यूनिफॉर्म को लेकर सवाल खड़े किए गए थे। आरोप था कि अक्षय की यूनिफॉर्म पर जो मेडल दिखाए गए वो ठीक नहीं थे। इन्हीं सब वजहों से रक्षा मंत्रालय ने इस तरह का फैसला लिया है।-newsindialive.in