साढ़े तीन साल में 40 वर्षों से ज्यादा काम, विपक्ष के पास नहीं कोई नीति: राम नरेश रावत
साढ़े तीन साल में 40 वर्षों से ज्यादा काम, विपक्ष के पास नहीं कोई नीति: राम नरेश रावत
देश

साढ़े तीन साल में 40 वर्षों से ज्यादा काम, विपक्ष के पास नहीं कोई नीति: राम नरेश रावत

news

-साढ़े तीन साल में 300 करोड़ से ज्यादा की बनी सड़कें -महापुरुषों को दिलाया सम्मान -संगठन और सरकार है आत्मा और शरीर रायबरेली, 15 सितम्बर (हि.स.)। उत्तर प्रदेश की योगी सरकार अपने कार्यकाल के साढ़े तीन साल पूरे करने जा रही है। अगले डेढ़ साल में विधायकों को अपने क्षेत्र में जनता के सामने अपनी उपलब्धियों का रिकार्ड प्रस्तुत करना होगा। 2022 में जनता भी उनके कार्यों और चुनाव के दौरान किये गए वादों को अपनी कसौटी पर कसेगी। 'हिन्दुस्थान समाचार' ने भी विधायकों के इन साढ़े तीन साल के रिपोर्ट कार्ड और पार्टी में उनकी भूमिका के मद्देनजर कई अहम जवाब उन्हीं से जानने की कोशिश की। इसी श्रृंखला में रायबरेली के बछरांवा विधानसभा क्षेत्र के विधायक राम नरेश रावत से हमारे संवाददाता रजनीश पांडे ने विस्तृत बात की। राम नरेश रावत भाजपा के विधान सभा सदस्य के साथ-साथ पार्टी में संगठन के विभिन्न पदों पर रहे हैं। उन्हें पार्टी के अनुसूचित जाति के चेहरे के तौर पर प्रदेश में देखा जाता है। राजस्थान, जम्मू कश्मीर आदि कई प्रदेशों में उनको संगठन विस्तार की अहम जिम्मेदारी मिल चुकी है। बछरांवा विधायक के रूप में उनके दावों की एक लंबी फेहरिस्त है। साथ ही संगठन को लेकर उनका नजरिया स्पष्ट। प्रस्तुत है इस बातचीत के मुख्य अंश... साढ़े तीन साल में 300 करोड़ से ज्यादा की बनी सड़कें राम नरेश रावत का कहना है कि साढ़े तीन साल के कार्यकाल में उन्होंने बछरांवा में सड़कों का जाल बिछा दिया है। 300 करोड़ रुपये यहां की सड़कों पर खर्च किया गया है।उपमुख्यमंत्री ने सड़कों की मरम्मत के लिए भी प्रस्ताव देने को कहा है। उनका दावा है कि 40 साल में इतना काम अब तक इस क्षेत्र में नहीं हुआ। बछरांवा विधायक के अनुसार क्षेत्र में दो आवासीय विद्यालयों के लिए मुख्यमंत्री ने 5 करोड़ की राशि दी है, जिससे अछई में आवासीय विद्यालय बनकर तैयार है। इसके अलावा ओसा में आईटीआई, बछरांवा में बस स्टेशन, शिवगढ़ में केंद्रीय विद्यालय, मौऊगर्वी में विद्युत उपकेंद्र सहित कई काम है। पुलों के निर्माण में भी डेढ़ करोड़ खर्च किया गया है। इस क्षेत्र के ग्रामीण अंचलों में भी 18 घंटे बिजली आपूर्ति हो रही है। राम नरेश रावत का कहना है कि विकास के अन्य प्रस्तावों को भी सबके सहयोग से तैयार कराया जा रहा है जिसे शासन से अनुमति दिलाकर जल्दी ही शुरू कराया जायेगा। उन्होंने दावा किया कि अब तक इस क्षेत्र का इतना विकास कभी भी नहीं हुआ। अगले कुछ समय जो भी काम रुके हुए हैं उन्हें भी पूरा कर लिया जाएगा। महापुरुषों को दिलाया सम्मान बछरांवा विधायक राम नरेश रावत का कहना है कि सपा और बसपा मूर्तियों की बातें करती हैं, जबकि उन्होंने सभी महापुरुषों सम्मान में सामुदायिक केंद्र और मूर्तियों का निर्माण कराया है। कुछ निर्मित हैं और कुछ प्रस्तावित हैं। उनका मानना है कि महापुरुष किसी जाति धर्म के खांचे में नहीं है। उनका सम्मान करना हम सभी का धर्म है। उन्होंने बताया कि बछरांवा में अटल सामुदायिक केंद्र बनाया गया है जहां भगवान परशुराम की मूर्ति लगाई गई है। उनकी विधायक निधि से महाराणा प्रताप सामुदायिक केंद्र में महाराणा प्रताप की मूर्ति लगाई जाएगी। सरदार पटेल, वीरा पासी, चंद्रगुप्त मौर्य, अवंति बाई लोधी, झलकारी बाई सहित अन्य महापुरुषों के नाम पर सामुदायिक केंद्र बनाए जाएंगे और उनकी मूर्तियां लगाई जाएंगी। जिससे हम सभी उनके जीवन से प्रेरणा ले सकें। उन्होंने कहा कि विपक्षी केवल इस मामले में राजनीति कर रहे हैं उनका महापुरुषों के सम्मान से कोई लेना देना नही है। संगठन व सरकार आत्मा और शरीर के रूप में हैं पार्टी संगठन के विभिन्न दायित्वों का निर्वहन कर चुके राम नरेश रावत का कहना है कि संगठन सरकार की आत्मा के रूप में काम करती है जिसे शरीर से अलग होने की कल्पना भी नहीं की जा सकती। दोनों के आपसी सामंजस्य से ही काम होते हैं। भाजपा कार्यकर्ता इस बात को भली भांति समझता है। उनका कहना है कि संगठन को विश्वास में लेकर ही विधायक और मंत्री कार्ययोजना बनाकर काम करते हैं। जबकि संगठन जनता के हित को देखते हुए अपने प्रस्ताव देता है। उनका दावा है कि किसी तरह का आपस में कोई मतभेद नहीं है। सभी की पूरी सुनवाई होती है। एक विधायक के रूप में उनके हर काम होते हैं। पूरी प्रशासनिक मशीनरी उनकी बात को गंभीरता से सुनती है। राम नरेश रावत के अनुसार भाजपा की रीति और नीति को समझने वाला कोई भी व्यक्ति इस बात को जानता है। कुछ लोग हो सकते हैं जो अपने निहित स्वार्थों के बदौलत अपना सामंजस्य नहीं बना पाते। भाजपा एक कॉडर बेस्ड पार्टी है, जिसमें रीति और नीति को ही प्रमुखता है। विपक्ष केवल भाजपा का अनुकरण करता है, नहीं है कोई नीति भाजपा व अन्य दलों में अंतर को लेकर राम नरेश रावत ने कहा कि विपक्ष के पास कोई नीति है ही नहीं। केवल इनका काम है कि हर काम का विरोध करना। इनका न तो खुद का कोई एजेंडा है और न ही कोई विचार। सरकार के हर काम को लेकर जनता में भ्रांति फैलाकर अपनी राजनीति करते हैं। उनका कहना है कि भाजपा अब राजनीति में एजेंडा सेट करती है और विपक्षी उसी का अनुकरण करते हैं। भाजपा सरकार में स्वच्छ, पारदर्शी व भ्रष्टाचार मुक्त शासन व्यवस्था के कारण विपक्ष इस समय विकल्पहीनता की स्थिति में है।जनता के लिए विपक्ष के पास न समय है और न ही विचार। इसीलिये वह लगातार अप्रासंगिक होते जा रहे हैं। 2022 में फ़िर होगी भाजपा सरकार भाजपा विधायक ने कहा कि 2022 में फिर भाजपा सरकार बनेगी। इस बार 350 सीटें भाजपा की होंगी। सरकार की जनहितकारी नीतियों का असर जनता में व्यापक है। केंद्र की मोदी सरकार व प्रदेश की योगी सरकार की उपलब्धियों को लेकर वह जनता के बीच जायेंगे। जनता का विश्वास उनके साथ है और बछरांवा में उनके द्वारा किया गया काम आज एक उदाहरण बन गया है। रावत का कहना है कि 40 साल बाद आज विकास को जनता महसूस कर रही है और उसी का फायदा उन्हें चुनाव में मिलेगा। हर परिवार को रोज़गार दिलाना है लक्ष्य राम नरेश रावत का कहना है कि हर परिवार में रोजगार के साधन हो, मोदी जी के इस सपने के साथ वह व्यक्तिगत तौर पर भी जुड़े हैं। वर्ष 2000 में एक महाराष्ट्र में आयोजित एक प्रशिक्षण कार्यक्रम में स्व. प्रमोद महाजन ने हर परिवार में एक रोजगार देने के भाजपा के कार्यक्रम को सभी को समझाया था। जिससे वह बहुत प्रभावित हुए हैं। मोदी जी भी इसी दिशा में आगे बढ़ रहे हैं। रावत का कहना है कि इससे वह व्यक्तिगत तौर पर भी जुड़े हैं। वह गांव गांव स्वयं सहायता समूह बनाकर इस अभियान को गति दे रहे हैं। उनका मानना है कि आधी आबादी को रोजगार से जोड़े बिना वह यह लक्ष्य पूरा नहीं किया जा सकता। उन्होंने इसके लिए पारिजात सेवा समिति बनाकर इस काम को शुरू कर दिया है। इसके तहत गांव गांव समूहों का गठन कर उसे स्वावलंबी बनाना है। वह इस काम को तेजी से आगे बढ़ाना चाहते हैं और उनका प्रयास है कि समाज भी इस दिशा में अपनी भूमिका समझे। राम नरेश रावत का कहना है कि मोदी जी के इस सपने को वह पूरा करने में जुटे हैं, सबको रोजी रोज़गार से जोड़कर उन्हें असली संतुष्टि मिलेगी। हिन्दुस्थान समाचार-hindusthansamachar.in