संरक्षणवादियों को अधिक सोच-विचार के लिए क्यों विवश कर रहा है जलवायु परिवर्तन

संरक्षणवादियों को अधिक सोच-विचार के लिए क्यों विवश कर रहा है जलवायु परिवर्तन
संरक्षणवादियों-को-अधिक-सोच-विचार-के-लिए-क्यों-विवश-कर-रहा-है-जलवायु-परिवर्तन

(साराह एलिजाबेथ डैलरिंपल, संरक्षण पारस्थितिकी में वरिष्ठ व्याख्याता, लिवरपूल जॉन मूरेस यूनिवसिर्टी) लंदन (ब्रिटेन), 17 जुलाई (द कन्वर्सेशन) चूंकि जलवायु परिवर्तन से रिकॉर्ड सूखा, बाढ़ की स्थिति पैदा हो रही है और विस्तारित होती आग की घटनाओं का मौसम लगातार सुर्खियों में बना हुआ है, ऐसे में इस भयावह स्थिति क्लिक »-www.ibc24.in

अन्य खबरें

No stories found.