शिक्षा, रोजगार और विकास का खोला रास्ता, क्षेत्र की बदली तकदीर: जटाशंकर
शिक्षा, रोजगार और विकास का खोला रास्ता, क्षेत्र की बदली तकदीर: जटाशंकर
देश

शिक्षा, रोजगार और विकास का खोला रास्ता, क्षेत्र की बदली तकदीर: जटाशंकर

news

कुशीनगर, 15 सितम्बर (हि.स.)। भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) की उत्तर प्रदेश सरकार के साढ़े तीन वर्ष पूरे होने को है। ऐसे में सरकार द्वारा विकास का बड़े-बड़े दावे किए जा रहे हैं। दावों की जमीनी हकीकत को जानने को बहुभाषीय समाचार न्यूज एजेंसी हिन्दुस्थान समाचार के मुख्य उप संपादक आमोदकांत मिश्र ने खड्डा विधानसभा के विधायक जटाशंकर त्रिपाठी से बातचीत की। प्रस्तुत है बातचीत का प्रमुख अंश... शिक्षा, रोजगार और विकास का खोला रास्ता क्षेत्र में हुए विकास कार्यों की चर्चा करते ही विधायक जटाशंकर ने खुद सवाल करना शुरू कर दिया। उन्होंने कहा कि क्या आप जानते हैं कि खड्डा विधानसभा क्षेत्र एक पिछड़े क्षेत्र में शुमार है। क्या आप यह जानते हैं कि माँ नारायणी की गोद बसे हुए इस क्षेत्र की पहचान कभी गंडक, गन्ना, गुंडा के नामों से हुआ करती थी। अब यह भी जानिए कि यहां की सबसे बड़ी जरुरत बुनियादी विकास की थी। शिक्षा, स्वास्थ्य सेवा, कृषि, रोजगार, सुरक्ष और सुशासन से ही इस क्षेत्र की तकदीर बदली जा सकती है। इन सभी जरूरतों को जमीन पर उतारा जा रहा है। बताया कि उत्तर प्रदेश सरकार ने यह ऐतिहासिक कार्य सिर्फ तीन वर्षों में किया है। नारायणी के तट पर पीपा पुल के निर्माण से लाखों लोगों के विकास का रास्ता खुला है। इतना ही नहीं, वीरान हो चुके छितौनी बाजार को टाउन एरिया का दर्जा दिलवाकर इसे गुलजार करने का काम भी हुआ है। तुरकहा में राजकीय कन्या इंटरमीडिएट कॉलेज की स्वीकृति से मकहिला शिक्षा को भी बढ़ावा देने का कार्य हुआ है। क्षेत्र के गांव-गांव में निःशुल्क बिजली, कनेक्शन, तार, पोल, लगाया जा रहा है। सड़क व्यवस्था को दुरुस्त किया गया है। एनएच 28बी का निर्माण कार्य पूरा हो चुका है। 132केवीए के विद्युत उपकेंद्र का निर्माण, तहसील भवन का निर्माण, सोहरौना में खेल के मैदान की स्वीकृति, केला मंडी की स्वीकृति, होम्योपैथिक मेडिकल कॉलेज की स्थापना, रजिस्ट्री कार्यालय का शुभारंभ, हरी बस सेेवा का संचालन भी सुनिश्चित कराया गया। इस बुनियादी विकास की आधार शिला को केवल 03 वर्षों में जमीन पर उतारने मेंं सफलता मिली है। अंतर राष्ट्रीय जलमार्ग को धरातल पर लाना सपना एक सवाल के जवाब में उन्होंने कहा कि पिछले 30 वर्षों से विभिन्न वर्गों के बीच विभिन्न बिंदुओं पर विकास से जुड़े कार्य कर रहा हूँ। सामाजिक क्षेत्र का एक लंबा अनुभव है। यही वजह है कि राजनीति में भी विकास के सपने को लेकर कार्य कर रहा हूँ। खड्डा को एक विकसित, खुशहाल और संपन्न विधानसभा बनाने का प्रयास कर रहा हूं। केंद्र व प्रदेश सरकारों का साथ कदमताल कर लगातार उपलब्धियां हासिल करने में जुटा हूँ। मेहनत के बल पर हासिल उपलब्धियां और पार्टी फोरम द्वारा तय मुद्दों को लेकर चुनाव मैदान में रहूंगा। अंतर राष्ट्रीय जलमार्ग को धरातल पर लाना सपना है। इसके शुरू होने से लोगों के विकास के रास्ते खुल जाएंगे। आपको बता दें कि अंतर राष्ट्रीय जलमार्ग 37 मोकामा-गंगा नदी से बाल्मीकि बैराज नेपाल तक सर्वे कार्य भी पूर्ण हो गया है। 'सामूहिकता' भाजपा का मूलमंत्र 'सबका साथ, सबका विकास और सबका विश्वास' के साथ 'सामूहिकता' का भाव भाजपा का मूल मंत्र है। प्रधानमंत्री और मुख्यमंत्री की अगुवाई में सुशासन और विकास के लिए जीरो टॉलरेंस पर कार्य हो रहा है। उत्तर प्रदेश की जनता का सेवा कार्य निरंतर चल रहा है। जन सेवा का कार्य ही भाजपा को अन्य दलों से अलग करती है। सपा, कांग्रेस और बसपा के राजकाज व कार्यशैली को जनता बखूबी जानती है। श्रीराम मंदिर भाजपा के लिए राजनीति का नहीं, आस्था का विषय श्रीराम मंदिर का विषय हिन्दुओं की आस्था का विषय है। जहां तक मैं समझता हूं, यह दुनिया का सबसे जटिल विषय रहा। इसका समाधान भाजपा की सरकार में हुआ है। प्रभु श्रीराम के मंदिर का निर्माण कार्य शुरू हो गया है। यह राजनीति का विषय नहीं है। मैं सिर्फ इतना ही कहूंगा कि भाजपा ने इसे करोड़ों हिंदुओं की आस्था के सम्मान का विषय बनाया। मामले का 5 शताब्दी के बाद समाधान हुआ। भले ही इसे अन्य लोग राजनीति की दृष्टि से देखा रहे हों, यह सिर्फ आस्था और भावनाओं के सम्मान का विषय रहा है। हिन्दुस्थान समाचार/आमोद/राजेश-hindusthansamachar.in