विकास और सुरक्षा के मुद्दे पर होगा विधानसभा चुनाव-सुचि मौसम चौधरी
विकास और सुरक्षा के मुद्दे पर होगा विधानसभा चुनाव-सुचि मौसम चौधरी
देश

विकास और सुरक्षा के मुद्दे पर होगा विधानसभा चुनाव-सुचि मौसम चौधरी

news

-विस 2022 में एक बार फिर योगी सरकार का नारा होगा पूरा बिजनौर, 17 सितम्बर (हि.स.)। उत्तर प्रदेश में भारतीय जानता पार्टी की योगी सरकार का साढ़े तीन साल का कार्यकाल पूरा होने को है। भाजपा सरकार अपने वायदों और दावों की कसौटी पर कितनी खरी उतरी है, इसकी हकीकत जानने के लिए 'हिन्दुस्थान समाचार' ने मुहिम चला रखी है। इस मुहिम के तहत जिला संवाददाता राजकुमार ने बिजनौर सदर सीट से भाजपा विधायक सुचि मौसम चौधरी से बातचीत की। पेश हैं बातचीत के मुख्य अंश... सवाल : विधायक होने के नाते आपने साढ़े तीन सालों के दौरान क्षेत्र के विकास के लिए क्या किया? कुछ ऐसी बड़ी परियोजनाओं के बारे में बताइए जो धरातल पर दिख रही हैं? जवाब : सदर विधायक सुचि मौसम चौधरी ने बताया कि उन्होंने मेडिकल कॉलेज के लिए बजट जारी कराया है। खादर क्षेत्र में गंगा पर तटबंध बनाने की फाइल दो दशक से रूकी हुई थी, उन्होंने शासन से उसको मंजूरी दिलाई है। गंगा पर पेंटून पुल का निर्माण जल्द शुरू होने वाला है। सवाल : डेढ़ साल बाद उत्तर प्रदेश में विधानसभा चुनाव होने हैं। किन मुद्दों को लेकर जनता के बीच जाएंगे? जवाब : वह जनता के बीच विकास, सुरक्षा का मुद्दा लेकर चुनाव लड़ेंगी। उनकी और पार्टी दोनों की उपलब्धि पर वोट मांगेंगी। योगी सरकार शुरूआत से ही महिलाओ की सुरक्षा के लिए कटिबद्ध रही है। सवाल : उत्तर प्रदेश में भाजपा सरकार और अन्य पार्टियों की सरकारों के बीच मूलभूत क्या अंतर है? जवाब : उन्होंने बताया कि भाजपा और अन्य पार्टियों में काफी अंतर है। उनकी सरकार पर एक भी भ्रष्टाचार का आरोप नहीं लगा हैं। सभी की सुनी जा रही है, चाहे वह किसी भी जाति या धर्म से ताल्लुक रखता हो। भाजपा सरकार में कार्यकर्ता और जनता दोनों को सम्मान मिल रहा है। अपराध कम हुआ है। अब सड़क पर चलने वाली युवतियां और महिला खुद को सुरक्षित महसूस करती हैं। योगी आदित्यनाथ खुद कहते हैं कि यूपी में कोई बदमाश रह नहीं सकता है। सवाल : आपकी दृष्टि में सरकार की क्या-क्या उपलब्धियां रही है, घोषणा पत्र के किन-किन वादों को पूरा किया है? जवाब : सुशासन और विकास सरकार की उपलब्धि है। सरकार ने सभी वादे पूरे किए हैं। कोरोना काल में भी मजदूर परिवार को अन्न और रोजगार दिलाने से बड़ी उपलब्धि क्या हो सकती है। पहली की सरकारें केवल तुष्टिकरण की राजनीति करती थीं। सवाल : श्रीराम मंदिर के निर्माण का मुद्दा आगामी विधानसभा चुनावों को कितना प्रभावित करेगा? जवाब : राम मंदिर आंदोलन के समय जिले के रामभक्तों ने भी कारसेवा की थी। यह तो हर हिन्दू के जीवन का सपना था। वे तो हर महीने अपने विधानसभा क्षेत्र से जरूरतमंद व बुजुर्ग रामभक्तों को अपने खर्च पर रामलला के दर्शन कराने की बात कह चुकी हैं। भगवान श्रीराम भाजपा के लिए चुनावी मुद्दा नहीं है। सवालः अपने इस प्रदर्शन के बल पर अपने नारे फिर एक बार योगी सरकार के सफल होने के विषय में आपके मन में उम्मीद? जवाब : विधानसभा चुनाव 2022 में फिर एक बार योगी सरकार के नारे को पूरा होने से कोई नहीं रोक सकता है। यह नारा तो जनता के मन का नारा है। हिन्दुस्थान समाचार-hindusthansamachar.in