मेरी खामोशी को मेरी कमजोरी न समझें: मुख्यमंत्री
मेरी खामोशी को मेरी कमजोरी न समझें: मुख्यमंत्री
देश

मेरी खामोशी को मेरी कमजोरी न समझें: मुख्यमंत्री

news

महाराष्ट्र की बदनामी कर रहा विपक्ष, कोरोना से मजबूती से निपट रही सरकार मुंबई, 13 सितम्बर (हि.स.)। मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने कहा कि वह हर तरह के तूफान का सामना कर रहे हैं, जिनमें राजनीतिक तूफान भी शामिल हैं। हालांकि वह इस तूफान पर बाद में बोलेंगे। मुख्यमंत्री ने कहा कि वह खामोश हैं, तो उनकी खामोशी को उनकी कमजोरी नहीं समझा जाना चाहिए। मुख्यमंत्री ने कहा कि विपक्ष लगातार मुंबई और महाराष्ट्र की बदनामी कर रहा है, जबकि उनकी सरकार कोरोना से मजबूती से निपट रही है। मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने रविवार को राज्य की जनता को वीडियो कान्फ्रेंसिंग के माध्यम से संबोधित किया। मुख्यमंत्री ने कहा कि उनकी सरकार लगातार तूफानों का सामना कर रही है। कोंकण में निसर्ग तूफान हो या कोरोना का संकट, राज्य सरकार इन सबसे मजबूती से निपट रही है। इसी दौरान विपक्ष राजनीतिक तूफान लाने का लगातार प्रयास कर रहा है । उद्धव ठाकरे ने कहा कि शिवसेना इस तरह तूफान का सामना करने में समर्थ रही है लेकिन मैंने इस समय अपने मुंह पर मुख्यमंत्री पद का मास्क लगाया है, इसलिए आज कुछ नहीं बोलूंगा। इस मुद्दे पर बोलेंगे जरूर ,लेकिन आज नहीं, बाद में बोलेंगे। मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य सरकार मराठा आरक्षण के लिए हर तरह का प्रयास कर रही है। इस संबंध उन्होंने परसों नेता प्रतिपक्ष देवेंद्र फडणवीस से बात करने का प्रयास किया था लेकिन वे बिहार में थे। आज फिर उनकी फडणवीस से बात हुई है। मराठा आरक्षण जब दिया गया था तो उस समय शिवसेना सरकार के साथ थी। उस समय कांग्रेस व राष्ट्रवादी कांग्रेस ने भी इसका समर्थन किया था। इसलिए मराठा आरक्षण भाजपा, शिवसेना, कांग्रेस, राकांपा सहित सभी राजनीतिक दलों की सहमति के साथ एकमत से (बहुमत से नहीं) दिया गया था। पिछली सरकार के समय जो वकील इसकी पैरवी कर रहे थे, वही वकील इसकी अब भी पैरवी कर रहे हैं। इसलिए इस मामले को लेकर जनता किसी भी तरह का आंदोलन न करे, राज्य सरकार इस पर रास्ता निकालने का प्रयास कर रही है। मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य सरकार सूबे में 15 सितंबर से मेरा परिवार मेरी जिम्मेदार अभियान शुरू कर रही है। इस अभियान में सभी जनप्रतिनिधि शामिल होकर कोरोना से निपटने का प्रयास करें। मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य के नागरिकों को यह समझना जरूरी है कि कोरोना का संकट समाप्त नहीं हुआ है। राज्य सरकार धीरे-धीरे अनलॉक शुरू कर रही है लेकिन लोग कोरोना से बचाव के लिए बनाई गई गाइडलाइन का पालन जारी रखें। मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य सरकार किसानों के लिए बेहतर काम कर रही है। किसानों का कर्ज भी माफ किया है। हिन्दुस्थान समाचार / राजबहादुर-hindusthansamachar.in