भाजपा नेताओं को अन्वय नाईक के परिजनों से मुलाकात करनी चाहिए : राऊत
भाजपा नेताओं को अन्वय नाईक के परिजनों से मुलाकात करनी चाहिए : राऊत
देश

भाजपा नेताओं को अन्वय नाईक के परिजनों से मुलाकात करनी चाहिए : राऊत

news

मुंबई, 05 नवंबर (हि.स.)। वरिष्ठ पत्रकार अर्नब गोस्वामी की गिरफ्तारी के बाद उनके समर्थन में खुलकर आए भाजपा के नेताओं को शिवसेना प्रवक्ता संजय राऊत ने सलाह दी है कि उनको पीड़ित अन्वय नाईक के परिजनों से मुलाकात कर उनका दुख-दर्द बांटना चाहिए, न कि अर्नब का समर्थन करना चाहिए। राऊत ने गुरुवार को पत्रकारों से कहा कि भाजपा के नेताओं को अन्वय नाईक के घर जाकर उनकी विधवा पत्नी और उनके अन्य परिजनों से मुलाकात करनी चाहिए। उनका दुख-दर्द बांटना चाहिए। इसके विपरीत भाजपा के नेता, अन्वय की मौत के जिम्मेदार अर्नब का साथ दे रहे हैं। उन्होंने कहा कि अन्वय एक सफल इंटीरियर डिजाइनर थे। अर्नब की वजह से ही अन्वय और उनकी मां ने आत्महत्या कर ली थी। इन दो मौतों से उनका परिवार किस तरह टूट गया है, इस बात का अहसास कम से कम भाजपा नेताओं को होना चाहिए। रायगढ़ पुलिस की कार्रवाई इसी सिलसिले में हो रही है, न कि पत्रकारिता की वजह से। राज्यसभा सदस्य राऊत ने कहा कि आज तक किसी भी कार्यकर्ता पर हुए अन्याय, अत्याचार के खिलाफ भाजपा ने इस तरह आवाज नहीं उठाई है। उन्होंने कहा कि हमारा भी मुखपत्र है। हमारा पत्रकार भी पार्टी की विचारधारा के अनुसार ही बात करता है। उसी तरह अर्नब भी भाजपा के हिसाब से बात करते हैं। उनका आचरण एक भाजपा कार्यकर्ता की तरह रहता है और वे भाजपा के लाउडस्पीकर की तरह काम करते हैं। लेकिन किसी भी पीड़ित परिवार का आंसू पोछना भी भाजपा का प्रथम कर्तव्य होना चाहिए। हिन्दुस्थान समाचार / राजबहादुर-hindusthansamachar.in