ब्रिक्स देशों ने तैयार किया आतंकवाद विरोधी रणनीतिक दस्तावेज
ब्रिक्स देशों ने तैयार किया आतंकवाद विरोधी रणनीतिक दस्तावेज
देश

ब्रिक्स देशों ने तैयार किया आतंकवाद विरोधी रणनीतिक दस्तावेज

news

नई दिल्ली, 17 सितम्बर (हि.स.)। राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल ने ब्रिक्स देशों के अपने समकक्ष सुरक्षा अधिकारियों के साथ गुरुवार को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए एक बैठक में भाग लिया जिसमें आतंकवाद विरोधी रणनीतिक मसौदे पर चर्चा हुई। आतंकवाद विरोधी इस मसौदे को ब्रिक्स देशों के नेताओं की शिखर वार्ता में मंजूरी के लिए रखा जाएगा। ब्रिक्स देशों भारत, ब्राजील, रूस, चीन और दक्षिण अफ्रीका की शिखर वार्ता अगले कुछ महीनों में आयोजित होगी। इसमें प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग, रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन, ब्राजील के राष्ट्रपति जायर बोल्सोनारो और दक्षिण अफ्रीका के राष्ट्रपति सिरिल रामफोसा भाग लेंगे। आतंकवाद विरोधी रणनीतिक मसौदे में ब्रिक्स देशों ने एक दूसरे की संप्रभुता का सम्मान करने, आंतरिक मामलों में हस्तक्षेप ना करने, संयुक्त राष्ट्र की केंद्र की भूमिका को मान्यता देने तथा सुरक्षा मामलों में समन्वय स्थापित करने का संकल्प व्यक्त किया है। इन सुरक्षा अधिकारियों ने जैविक आतंकवाद के खतरे के मद्दे नजर आपसी सहयोग बढ़ाने का भी निश्चय किया है। बैठक की अध्यक्षता रूस के राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार निकोलाई पत्रुशेव ने की जिसमें चीन के समकक्ष अधिकारी यांग जी ची ने शिरकत की। पिछले कुछ दिनों के दौरान यह दूसरा मौका है जब भारत और चीन के शीर्ष सुरक्षा अधिकारियों ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए बैठक में भाग लिया। मंगलवार को शंघाई सहयोग संगठन की बैठक में भारत और चीन के सुरक्षा अधिकारियों ने भाग लिया था। पूर्वी लद्दाख में चीन और भारत मेें सैन्य तनाव के बीच बैठकों का यह सिलसिला जारी रहा। हालांकि इस दौरान उनके बीच अलग से इस विषय पर सीधे तौर कोई बातचीत नहीं हुई। हिन्दुस्थान समाचार/अनूप/सुनीत-hindusthansamachar.in