बंद आंखों से मूर्ति बना चित्रकूट के आयुष्मान रिछारिया ने रचा नया इतिहास
बंद आंखों से मूर्ति बना चित्रकूट के आयुष्मान रिछारिया ने रचा नया इतिहास
देश

बंद आंखों से मूर्ति बना चित्रकूट के आयुष्मान रिछारिया ने रचा नया इतिहास

news

चित्रकूट, 13 दिसम्बर (हि.स.)। कर्वी शहर के पुरानी बाजार के आयुष्मान रिछारिया पुत्र दयाशंकर रिछारिया ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की प्रेरणा से मूर्ति कला में नया कीर्तिमान स्थापित किया है। रविवार को आयुष्मान रिछारिया ने बताया कि लाॅकडाउन में अपने हुनर मूर्ति कला को निखारना शुरु किया। मूर्ति कला में शुरु से ही रुचि रही है, पढ़ाई के कारण वक्त न मिलने से कला को सौकिया तौर पर ही रखा। लाॅकडाउन में स्कूल बन्द होने पर समय का सदुपयोग कर कला को उड़ान के नये पंख देकर नया इतिहास रच दिया। उन्होंने मिट्टी के सूक्ष्म गणपति की 1.5 सेमी व दो इंच की मूर्ति आंख बन्दकर बनाई। भविष्य में वक्त मिला तो और कीर्तिमान रचने का हौसला पाले हैं। उनके इस कीर्तिमान को इतिहास इंडिया बुक ऑफ रिकार्ड एवं इंडिया बुक ऑफ रिकार्ड ने दुबारा नाम दर्ज कराया है। उनका हौसला उनके पिता दयाशंकर व माता माधुरी तथा मामा मयंक तिवारी ने बढ़ाया है। हिन्दुस्थान समाचार/रतन/राजेश-hindusthansamachar.in

AD
AD