पूर्व सांसद आनंद मोहन को राजनीतिक सजा दी गई : लवली आनंद
पूर्व सांसद आनंद मोहन को राजनीतिक सजा दी गई : लवली आनंद
देश

पूर्व सांसद आनंद मोहन को राजनीतिक सजा दी गई : लवली आनंद

news

सहरसा,05 नवम्बर (हि.स.)। राष्ट्रीय जनता दल, कांग्रेस और वाम मोर्चा की संयुक्त उम्मीदवार लवली आनंद ने चुनाव प्रचार के अंतिम दिन गुरुवार को सहरसा जिले के सौर बाजार, धर्मसैनी, समदा, चिकनी, बरसम, खैरा, भादा, कबैला, रामपुर, हरिपुर, अमरपुर, सोनवर्षा, कचहरी, खड़गपुर, बिशनपुर सहित दर्जनों गांवों में रोड शो के साथ तूफानी दौरा कर जनसंपर्क किया। उन्होंने बिहार में सत्ता परिवर्तन की लड़ाई का सहरसा के लोगों से गवाह बनने की अपील की। लवली आनंद ने इस रोड शो के दौरान जगह—जगह गांवों में उतरकर मतदाताओं से आगामी सात नवम्बर को लालटेन चुनाव चिन्ह पर बटन दबाकर उन्हें भारी मतों के अंतर से विजयी बनाने की अपील की। उन्होंने चुनाव प्रचार के अंतिम दिन जनसम्पर्क के दौरान गांवों में घर-घर जाकर महिलाओं से भी सीधा संवाद किया और चुनाव के दिन भारी मतदान कर उन्हें विजयी बनाने की अपील की। उन्होंने सभी वर्गों के लोगो से हाथ जोड़कर बिहार की सत्ता परिवर्तन की लड़ाई में साथ देने का आह्वान करते हुए बिहार के नवनिर्माण में आगे आने की बात कही। रोड शो के दौरान महागठबंधन की उम्मीदवार लवली आनंद के साथ स्थानीय कार्यकर्ताओं और नेताओं का भारी हुजूम उमड़ पड़ा। उन्होंने कहा कि बिहार की राजनीति में अपनी मजबूत धमक रखने के कारण राजनीतिक साजिशों में फंसाकर पूर्व सांसद आनंद मोहन को सजा दी गई है जिससे दूर-दूर तक उनका नाता ही नहीं रहा है।लगातार 14 वर्षो से जेल में बन्द रखने से भी जी नहीं भरा तो रातों-रात सहरसा जेल से उन्हें भागलपुर केंद्रीय कारा शिफ्ट कर उनकी जान पर खतरा पैदा कर दिया गया है। कई दिनों से आनंद मोहन भागलपुर केंद्रीय कारा में अनशन पर हैं।अन्न का त्याग कर बिहार की नीतीश कुमार और सुशील मोदी सरकार द्वारा लगातार उन्हें साजिशों के जाल में घेरने की प्रयासों का विरोध कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि केंद्रीय कारा में आनंद मोहन की स्थिति नाजुक बनी हुई है। सहरसा विधानसभा क्षेत्र से राष्ट्रीय जनता दल,कांग्रेस और वाम मोर्चा सह महागठबंधन की उम्मीदवार लवली आनंद ने क्षेत्रीय दौरे के क्रम में सहरसा विधानसभा क्षेत्र के कई गांवों में मतदाताओं से सीधे जनसम्पर्क और संवाद किया। उन्होंने कहा कि आतंक और अन्याय का प्रतीक बने नीतीश कुमार और सुशील मोदी की सरकार ने बिहार की जनता के साथ पंद्रह सालों तक धोखा किया। विकास के नाम पर जनता को ठगा गया। लवली आनंद ने कहा कि बिहार के विकास और तरक्की के लिए एक—एक वोट लालटेन को दें। उन्होंने कहा कि एनडीए के नेताओं के पास कोई मुद्दा नहीं है। बिहार के विकास का कोई आंकड़ा नहीं है। बिहार की सरकार ने शिक्षा और स्वास्थ्य को चौपट कर दिया है। उन्होंने कहा कि लोग सहरसा के सम्पूर्ण और सर्वांंगीण विकास के लिए राजद का परचम लहराने और लालटेन पर बटन दबाने के लिए लोग 7 नवम्बर का बेसब्री से इंतजार कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि तेजस्वी यादव के नेतृत्व में बिहार में सत्ता परिवर्तन होने जा रहा है और नई सरकार बनते ही बिहार के विकास और राज्य के नवनिर्माण का कार्य तेजी से आगे बढ़ने लगेगा। लवली आनंद ने कहा कि नई सरकार के गठन के बाद आनंद मोहन के साथ भी न्याय होगा और वे आप सभी के बीच होंगे। उन्होंने जुल्म और ज्यादती को चोट देने के लिए घरों से निकल वोट देने और लालटेन पर बटन दबाने की अपील करते हुए कहा कि आपका एक एक वोट सहरसा के विकास, स्वाभिमान और गौरव को बढ़ाएगा। आने वाले दिनों में सहरसा विकास की दौड़ में सबसे आगे होगा। लवली आनंद के साथ चुनावी दौरे में स्थानीय नेता के अलावे भोजपुर जिले के फ्रेंड्स ऑफ आनंद के वरिष्ठ नेता अशोक सिंह, ओम प्रकाश सिंह, संजय सिंह, कैमूर जिले के मृगेंद्र प्रताप सिंह उर्फ पिंटू सहित स्थानीय कई नेता शामिल रहे। हिन्दुस्थान समाचार/अजय/हिमांशु शेखर-hindusthansamachar.in