पाकिस्तान में हिन्दू धर्मस्थलों पर हमले इंसानियत के लिए शर्म की बात : नायब शाही इमाम
पाकिस्तान में हिन्दू धर्मस्थलों पर हमले इंसानियत के लिए शर्म की बात : नायब शाही इमाम
देश

पाकिस्तान में हिन्दू धर्मस्थलों पर हमले इंसानियत के लिए शर्म की बात : नायब शाही इमाम

news

लुधियाना, 05 नवम्बर (हि.स.)। पाकिस्तान में आए दिन मंदिर समेत हिन्दू समाज के प्रेरणा स्थलों पर हो रहे हमलों को लेकर नायब शाही इमाम पंजाब मौलाना मुहम्मद उस्मान लुधियानवी ने कहा कि यह इंसानियत के लिए शर्म की बात है। उन्होंने कहा की पाकिस्तान की इमरान सरकार अपने देश के अल्पसंख्यकों की रक्षा करने में नाकाम साबित हुई है। उन्हें शर्म आनी चाहिए कि वह एक समुदाय विशेष के लोगों का विश्वास नहीं हासिल कर पाए। मुहम्मद उस्मान लुधियानवी ने कहा कि अपने आप को इस्लामी देश कहने वाले पाकिस्तान को यह भी याद नहीं कि इस्लाम धर्म में सभी इंसान को उनके धर्म और जात के साथ बराबरी का सम्मान देने का हुक्म दिया गया है।उन्होंने कहा कि पाकिस्तान को अपने सभी नागरिकों के साथ समान व्यवहार रखना होगा। नायब शाही इमाम ने कहा कि हम मीडिया द्वारा पाकिस्तान के सभी नागरिकों को यह संदेश देना चाहते हैं कि वह अपने देश के अल्पसंख्यकों के साथ मजबूत समाजिक संबंध बनाकर रखे और अपने धर्म के साथ-साथ उनके धर्म को सम्मान देना सीखे। उन्होंने कहा कि इस्लामी देशों में सर्वधर्म समभाव की सीख पाकिस्तान को दुबई से लेनी चाहिए जहां सभी की इबादत गाह बनाई गई हैं। पाकिस्तान की सरकार और वहां के दिग्गज इस बात को समझ लें कि धर्म हर इंसान की आस्था का निजी मामला है। किसी की गुंडागर्दी किसी को उसके धर्म से हटा नहीं सकती। इस मौके पर कारी मुहम्मद मोहतरम, कारी इबराहिम, शाहनवाज अहमद, बाबुल खान, तनवीर आलम, शेख अशरफ व शाही इमाम पंजाब के मुख्य सचिव मुहम्मद मुस्तकीम अहरारी विशेष रूप से उपस्थित थे। हिन्दुस्थान समाचार/ राज कुमार शर्मा/ नरेंद्र जग्गा-hindusthansamachar.in