पाकिस्तानी अखबारों सेः जनरल बाजवा ने हमलों का मुंहतोड़ जवाब देने के लिए तैयार रहने को कहा
पाकिस्तानी अखबारों सेः जनरल बाजवा ने हमलों का मुंहतोड़ जवाब देने के लिए तैयार रहने को कहा
देश

पाकिस्तानी अखबारों सेः जनरल बाजवा ने हमलों का मुंहतोड़ जवाब देने के लिए तैयार रहने को कहा

news

नई दिल्ली, 23 दिसम्बर (हि.स.)। पाकिस्तान से बुधवार को प्रकाशित अधिकांश समाचार पत्रों ने आज पाकिस्तान के सेना प्रमुख जनरल बाजवा के लाइन ऑफ कंट्रोल की अग्रिम चौकियों पर जाकर सेना का उत्साह बढ़ाने की खबर देते हुए कहा है कि भारत के जरिए लाइन ऑफ कंट्रोल पर लगातार किए जा रहे सीजफायर के उल्लंघन के बाद जनरल बाजवा का यह दौरा काफी अहमियत रखता है। अखबारों ने लिखा है कि इस मौके पर जनरल बाजवा ने कहा है कि दुश्मन के हमलों का मुंहतोड़ जवाब देने के लिए सेना को हमेशा तैयार रहने की जरूरत है। अखबारों ने कहा है कि कंट्रोल लाइन पर भारतीय सेना के जरिए की गई ताजा गोलाबारी में एक महिला के मारे जाने और दो बच्चों के घायल होने की सूचना मिली है। अखबारों ने पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान के हवाले से यह खबर भी दी है कि उन्होंने अपने मंत्रियों से कहा है कि वह अपने काम पर ध्यान दें और किसी तरह का बहाना नहीं चलेगा। इमरान खान का कहना है कि अब सरकार के महज़ ढाई साल बचे हैं, इसलिए मंत्रियों को अपने काम पर पूरा ध्यान केंद्रित करना चाहिए। इसके अलावा अखबारों ने सियालकोट में पुलिस की कार्रवाई में दस आतंकियों के मारे जाने और बड़ी तादाद में उनसे गोला बारूद बरामद होने की खबर दी है। अखबारों ने नई कराची इलाके में बर्फ फैक्टरी के बॉयलर के फटने की वजह से फैक्टरी के बुरी तरह से धराशाई होने और उसमें दबकर 8 लोगों की मौत होने की खबर देते हुए कहा है कि इसमें बड़ी तादाद में लोग जख्मी भी हुए हैं और पड़ोस की दो और फैक्टरियों को भी नुकसान पहुंचा है। ये सभी खबरें रोजनामा औसाफ, रोजनामा जिन्नाह, रोजनामा नवाएवक्त, रोजनामा जंग, रोजनामा खबरें ने अपने पहले पृष्ठ पर प्रकाशित की है। रोजनामा औसाफ ने खबर दी है कि भारत के एक टीवी चैनल पर पाकिस्तानियों के खिलाफ नफरत फैलाने और उन्हें चोर और भिखारी जैसे अपशब्द से मुखातिब किए जाने के मामले को लेकर चैनल पर जुर्माना लगाया गया है। अखबार ने लिखा है कि रिपब्लिकन भारत टीवी के एंकर अर्नब गोस्वामी के जरिए पाकिस्तानियों के खिलाफ नफरत फैलाने का मामला सामने आया है। ब्रिटेन ने इस मामले में सख्त नोटिस लिया है। अखबार का कहना है कि पाकिस्तानियों के खिलाफ जिस भाषा का इस्तेमाल टीवी चैनल के जरिए किया जा रहा है, उससे ब्रिटेन में रह रहे भारत और पाकिस्तानी नागरिकों के बीच आपस में नफरत बढ़ेगी और वहां कभी भी दोनों समुदायों के बीच कोई नाखुशगवार घटना हो सकती है। रोजनामा पाकिस्तान ने वाशिंगटन पोस्ट के हवाले से यह खबर दी है कि राष्ट्रपति ट्रंप सऊदी अरब के प्रिंस मोहम्मद बिन सलमान को निर्वासित पत्रकार जमाल खाशोगी के कत्ल के इल्जाम में आम माफी देने की तैयारी कर रहे हैं। सऊदी प्रशासन की तरफ से राष्ट्रपति ट्रंप से मोहम्मद बिन सलमान को पत्रकार के कत्ल के केस में आम माफी दिए जाने की गुजारिश की गई है। अमेरिका में इस कत्ल का मामला दर्ज किया गया है। अखबार का कहना है कि राष्ट्रपति ट्रंप को मिले अधिकारों में यह भी शामिल है कि वह किसी को भी आम माफी दे सकते हैं। अखबार ने पीडीएम प्रमुख मौलाना फजलुर्रहमान के हवाले से यह खबर दी है कि अगर इमरान खान अपनी सरकार का त्यागपत्र दे दें, तो बातचीत की जा सकती है। मौलाना का कहना है कि सरकार के खिलाफ लांग मार्च की तैयारी जोर शोर से की जा रही है। इसके अलावा अखबार ने खबर दी है कि ब्रिटेन में कोरोना वायरस की दूसरी किस्म की वजह से दुनिया भर के 40 देशों ने वहां पर आने जाने वाली अपनी फ्लाइटों पर रोक लगा दी है। हिन्दुस्थान समाचार/एम ओवैस/मोहम्मद शहजाद/बच्चन-hindusthansamachar.in