पांच दिनों तक टनकपुर में फंसे रहने के बाद आज नेपाल रवाना हुए अमेरिका मूल के बच्चे
पांच दिनों तक टनकपुर में फंसे रहने के बाद आज नेपाल रवाना हुए अमेरिका मूल के बच्चे
देश

पांच दिनों तक टनकपुर में फंसे रहने के बाद आज नेपाल रवाना हुए अमेरिका मूल के बच्चे

news

- दस्तावेज पूर्ण न होने के चलते दोनों बच्चों को रोका गया था चेक पोस्ट पर टनकपुर (चंपावत), 15 अक्टूबर (हि.स.)। पांच दिनों तक टनकपुर में फंसे रहने के बाद अमेरिका मूल के बच्चे आज नेपाल को रवाना हो गए। वह नेपाल के काठमांडू में अपने माता-पिता के पास जाएंगे। एसडीएम हिमांशु फल्टिया ने इन बच्चों को नेपाल के लिए रवाना किया। दोनों बच्चे टनकपुर के एक गेस्ट हाउस में रह रहे थे। उनके रहने का प्रबंध एसडीएम की ओर से किया गया था। पांच दिन पूर्व रविवार को भारत के बनबसा शहर से नेपाल के महेंद्रनगर शहर की ओर जाने वाली रोड पर पड़ने वाले इमीग्रेशन चेक पोस्ट पर अमेरिकी मूल के भाई बहन कोलार्डो रिवर रोज और अल्ट्रा वायलेट रोज को रोक लिया गया था। वह मसूरी स्थित इंटरनेशनल स्कूल में पढ़ते हैं। बच्चों के माता-पिता काठमांडू में रहते हैं। दस्तावेज पूर्ण न होने के चलते दोनों बच्चों को चेक पोस्ट पर रोका गया था। ऐसे में दोनों बच्चे कहां जाते। मामले की जानकारी होने पर एसडीएम ने बच्चों के रहने का इंतजाम गेस्ट हाउस में कर दिया। एसडीएम ने बताया कि गृह मंत्रालय की गाइड लाइन के तहत कुछ प्रपत्र कम पाए गए थे। इसके तहत बच्चों को रोका गया था। इस मामले से स्कूल प्रबंधन व दूतावास को अवगत करा दिया गया था। स्कूल प्रबंधन ने भी दूतावास से संपर्क किया था। अमेरिकन दूतावास एवं जिला प्रशासन द्वारा भी लगातार पैरवी की जा रही थी। गृह मंत्रालय से अनुमति मिलने के बाद आज दोनों भाई बहन को नेपाल जाने की अनुमति प्रदान कर दी गई। आज सुबह 10:00 बजे दोनों भाई बहन नेपाल सुरक्षा बलों को सुरक्षित सौंप दिए गए। हिन्दुस्थान समाचार/राजीव मुरारी/रामानुज-hindusthansamachar.in