पंजाब में नहीं थम रहा शराब से मरने वालों का आंकड़ा, 73 लोग गंवा चुके अपनी जान..कई घर हो गए बर्बाद
पंजाब में नहीं थम रहा शराब से मरने वालों का आंकड़ा, 73 लोग गंवा चुके अपनी जान..कई घर हो गए बर्बाद
देश

पंजाब में नहीं थम रहा शराब से मरने वालों का आंकड़ा, 73 लोग गंवा चुके अपनी जान..कई घर हो गए बर्बाद

news

कोरोना के कहर से ज्यादा खतरनाक निकली पंजाब की जहरीली शराब। जिसको पीते ही एक झटके में लोगों की मौत हो गई, अब मरने वालों की संख्या का यह आंकड़ा शनिवार तक 73 तक पहुंच गया है। आज तरनतारन में करीब 23 लोगों ने अपनी जान गंवाई है। इस तरह हो रहीं लोगों की मौत के बाद से पुलिस विभाग व प्रशासन में हड़कंप मचा हुआ है। पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने इस मामले की फौरन जांच के आदेश जारी कर दिए हैं। मरने वाले पंजाब के इन 3 जिलों से… बता दें कि अभी तक तरनतारन में 52, अमृतसर में 12 और बटाला में 9 लोगों की मौते हो चुकी है। वहीं मरने वालों की संख्या में और बढ़ने का अंदेशा जताया है। पुलिस ने अब तक इस मामले में अकेले तरनतारन में ही 10 लोगों को गिरफ्तार कर लिया है, जिनसे लगातार पूछताछ की जा रही है। वहीं इस मामले में कुछ गांववालों का कहना है कि यहां पर बहुत से घरों में गैर कानूनी शराब का कारोबार किया जाता है। जिसके बारे में पुलिस को पूरी जानकारी होने के बावजूद आरोपियों गिरफ्तार नहीं किया जाता है। यही वजह है कि आज इतने लोगों को अपनी जान गंवानी पड़ी। (तस्वीर में मृतक का परिवार मातम मनाता हुआ) आरोपियों को पकड़ने के लिए हो रही छापेमारी बॉर्डर रेंज के डीआईजी हरदयाल मान ने बताया कि इस मामले के आरोपियों को पकड़ने के लिए पुलिस लगातार अलग-अलग जगहों पर छापेमारी कर रही है। जल्द से जल्द आरोपियों को पकड़कर कड़ी कार्रवाई की जाएगी। मरने वाले सभी गरीबी रेखा के नीचे वाले पुलिस के मुताबिक, मरने वाले अधिकतर लोग अमृतसर और तरनतारन जिले के निवासी थे। सभी मृतक गरीबी रेखा के नीचे जीवन यापन करने वाले परिवारों से ताल्लुक रखते थे। (शुक्रवार को पुलिस ने 9 लोगो का एर साथ अंतिम संस्कार) पुलिस को बिना बताए कर दिया था अंतिम संस्कार बताया जा रहा है कि अधिकतर लोगों की मौत के बाद उनके परिवार वालों ने पुलिस को सूचित किए बिना ही शवों का अंतिम संस्कार कर दिया।हालांकि अब मामले में पुलिस ने संज्ञान लिया है, इसलिए अब बिना पुलिस और डॉक्टर की पुष्टि से अब कोई अंतिम संस्कार नहीं कर पा रहा है। विपक्षी पार्टियां कैप्टन सरकार को घेर रहीं वहीं इस मामले पर पंजाब की विपक्षी पार्टी अकाली दल और आम आदमी पार्टी लगातार पंजाब सरकार पर आरोप लगा रही है कि पंजाब सरकार आरोपियों के साथ मिली हुई है। इसलिए शायद अभी तक आरोपी पकड़े नहीं गए हैं।-newsindialive.in