नरेंद्र मोदी नहीं, नरेंद्र बिहारी हैं, बिहार इनके दिल में बसता हैः अश्विनी चौबे
नरेंद्र मोदी नहीं, नरेंद्र बिहारी हैं, बिहार इनके दिल में बसता हैः अश्विनी चौबे
देश

नरेंद्र मोदी नहीं, नरेंद्र बिहारी हैं, बिहार इनके दिल में बसता हैः अश्विनी चौबे

news

- चुनाव बाद मुंह दिखाने लायक नहीं रहेंगे विपक्षी गठबंधन के नेता राजीव मिश्रा पटना, 18 अक्टूबर (हि.स.)। केंद्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण राज्य मंत्री अश्वनी कुमार चौबे ने रविवार को कहा कि बिहार के विकास में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के योगदान को कभी नहीं भुलाया जा सकता। मोदी यह योगदान आगे भी देते रहेंगे। पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी के बाद नरेंद्र मोदी दूसरे प्रधानमंत्री हैं जो अपने कर्म से बिहारी हैं। ये बिहार के लिए नरेंद्र मोदी नहीं, नरेंद्र बिहारी हैं। अपने तीन दिवसीय चुनावी दौरे पर केंद्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण राज्य मंत्री अश्वनी कुमार चौबे ने रविवार को कहा कि आज बिहार में राजमार्गों की सुधरी स्थिति है, किसानों की आय दोगुनी करने का संकल्प है, अच्छी स्वास्थ्य व्यवस्था है, बिजली की व्यवस्था है, बड़े-बड़े पुलों का निर्माण हो रहा है, इन सबके पीछे कहीं न कहीं प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का हाथ है। बिहार के विकास के लिए उन्होंने केंद्र सरकार का खजाना खोल दिया है। जन आरोग्य, आयुष्मान भारत जैसी योजनाओं के माध्यम से गरीबों का 5 लाख तक का इलाज मुक्त हो रहा है। प्रधानमंत्री जन औषधि योजना के माध्यम से दवाइयां सिर्फ 10 से 20 प्रतिशत मूल्य पर मिल रही हैं। उन्होंने कहा कि गरीब महिलाओं को गैस कनेक्शन मुफ्त मिल रहे हैं जिससे उनको न सिर्फ आर्थिक मदद मिल रही है, बल्कि उनके स्वास्थ्य की भी रक्षा हो रही है। इन चीजों को जनता देख और समझ रही है। केंद्र सरकार की योजनाओं के साथ ही नीतीश कुमार की नेतृत्व वाली एनडीए की बिहार सरकार भी पूरे मनोयोग से जनता की सेवा में लगी हुई है। चुनावी सभाओं और जनसंपर्क अभियान में एनडीए प्रत्याशियों के प्रति जनता का रुझान दिख रहा है। एनडीए की आंधी में उखड़ जाएगा विपक्षी गठबंधन का तंबू शाहाबाद क्षेत्र के तीन दिवसीय चुनावी दौरे के बाद केंद्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण राज्य मंत्री अश्वनी कुमार चौबे ने रविवार को कहा कि पूरे क्षेत्र में एनडीए की आंधी चल रही है। इसमें विपक्षी गठबंधन का तंबू उखड़ जाएगा। चुनाव परिणाम आने के बाद विपक्षी गठबंधन में शामिल दलों में कोई बंगाल की खाड़ी, कोई हिंद महासागर तो कोई अरब सागर में नजर आएगा। विपक्षी गठबंधन के जो नेता बड़ी-बड़ी बातें कर रहे हैं, चुनाव के बाद मुंह दिखाने लायक नहीं रहेंगे। केंद्रीय मंत्री ने कहा कि बक्सर, सासाराम, रोहतास, कैमूर जिले के चुनावी कार्यक्रमों में जनता का उत्साह देखने लायक था। चुनाव के बाद नीतीश कुमार के नेतृत्व में फिर से एनडीए की सरकार बनेगी और विकास कार्यों को पहले की भांति और तेजी से बढ़ाया जाएगा। हिन्दुस्थान समाचार-hindusthansamachar.in