दिल्ली हिंसा: खालिद सैफी को एक मामले में मिली जमानत
दिल्ली हिंसा: खालिद सैफी को एक मामले में मिली जमानत
देश

दिल्ली हिंसा: खालिद सैफी को एक मामले में मिली जमानत

news

नई दिल्ली, 11 सितम्बर (हि.स.)। दिल्ली की कड़कड़डूमा कोर्ट ने शुक्रवार को दिल्ली हिंसा के आरोपी खालिद सैफी को एक मामले में जमानत दे दी है। एडिशनल सेशंस जज अमिताभ रावत ने खालिद सैफी को जमानत देने का आदेश दिया। खालिद को जमानत मिलने के बाद भी वो जेल से रिहा नहीं हो सकता क्योंकि दो और मामलों में उसे जमानत नहीं मिली है। खालिद सैफी ने इस मामले में दूसरी बार जमानत याचिका दायर की है। इस मामले में दर्ज एफआईआर में खालिद के खिलाफ भारतीय दंड संहिता की धारा 147, 148, 149, 186, 353, 332, 307, 109 के अलावा आर्म्स एक्ट की धारा 25 और 27 के तहत आरोप लगाए गए हैं। कोर्ट ने इस मामले में खालिद की पहली जमानत याचिका मार्च महीने में खारिज कर दी थी। कोर्ट ने उस समय कहा था कि खालिद के खिलाफ अभी पूरी नहीं हुई है। बता दें कि इस मामले में दिल्ली पुलिस ने पिछले 20 अप्रैल को चार्जशीट दाखिल की थी। खालिद के खिलाफ दो और मामले दर्ज हैं जिनमें यूएपीए के तहत मामले दर्ज हैं। खालिद यूनाइटेड अगेंस्ट हेट का संस्थापक है। स्पेशल सेल ने जिन लोगों के खिलाफ यूएपीए के तहत एफआईआर दर्ज की है, उनमें इशरत जहां, खालिद सैफी, सफूरा जरगर, गुलफिशा फातिमा, नताशा नरवाल, देवांगन कलीता और ताहिर हुसैन के नाम प्रमुख हैं। ये सभी आरोपी फिलहाल जेल में बंद हैं। स्पेशल सेल ने एफआईआर में जेएनयू के पूर्व छात्र उमर खालिद का भी नाम लिया है लेकिन अभी तक उसे गिरफ्तार नहीं किया गया है। स्पेशल सेल के मुताबिक उमर खालिद ने अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के भारत आगमन के पहले अन्य आरोपियों के साथ दिल्ली में दंगों की साजिश रची थी। हिन्दुस्थान समाचार/ संजय/सुनीत-hindusthansamachar.in