जहां विकास से कोई नाता नहीं था, वहां हमने काम किया-विमलेश पासवान
जहां विकास से कोई नाता नहीं था, वहां हमने काम किया-विमलेश पासवान
देश

जहां विकास से कोई नाता नहीं था, वहां हमने काम किया-विमलेश पासवान

news

- उत्तर प्रदेश को उत्तम प्रदेश का रुप योगीजी ने दिया - मेरे संघर्ष का सबसे बड़ा परिणाम सड़कें हैं - जनता का मुझ पर और मेरा जनता पर विश्वास गोरखपुर, 16 सितम्बर (हि.स.)। योगी सरकार के साढ़े तीन साल पूरे होने को हैं। भाजपा सरकार के क्रिया-कलापों व उपलब्धियों को जानने की उत्सुकता के साथ लोग अपने विधायकों द्वारा किए गए कार्यों को भी जानना चाहते हैं। इस उत्सुकता से परिचित कराने के लिए गोरखपुर जिले के बांसगांव विधानसभा से विधायक विमलेश पासवान से हिन्दुस्थान समाचार के प्रतिनिधि पुनीत श्रीवास्तव ने बातचीत की। प्रस्तुत है प्रमुख अंश... सवाल : साढ़े तीन साल में क्षेत्र के विकास के लिए क्या किया गया है? कुछ बड़ी परियोजना के नाम बताइए। जो ज़मीन पर दिख रहे हो? उत्तर : साढ़े तीन साल के योगी सरकार में बांसगांव का स्वर्णिम विकास हुआ है। गोरखपुर के दक्षिण रोहिन और राप्ती नदियों के बीच स्थित यह क्षेत्र विकास से कोसों दूर रहा। क़ृषि आधारित क्षेत्र है। किसी भी विकास का जो पैमाना होता है वह है, कृषि, बिजली, पानी, शिक्षा, स्वास्थ्य और सड़कें। इन सबको मजबूत करने का जो कार्य सरकार ने किया है उसका सबसे बड़ा लाभ बांसगांव को मिला है। बांसगांव के बीच से होकर एनएच 29 जाती है, जो इस क्षेत्र के लिए लाइफलाइन है। इसका शिलान्यास 2016 में तत्कालीन सांसद योगी आदित्यनाथ, सांसद कमलेश पासवान और मेरे संघर्षों के परिणाम स्वरुप हुआ, लेकिन अखिलेश सरकार ने काम नहीं होने दिया। कभी वन विभाग से तो कभी पीडब्लूडी से अड़चन लगवा दिया। इस प्रकार एक साल का समय बर्बाद कर दिया। जब 2017 में योगी सरकार आयी तो पुनः इसका काम शुरू हो पाया। विधानसभा की सभी सड़कों को मुख्य मार्ग से जोड़ने का कार्य हमने किया। चाहे वह सोहगौरा बांध से सियहीपार हो, कौड़ीराम से बांसगांव स्टेट हाईवे हो, महावीर छपरा से बांसगांव बाईपास हो सब शामिल है। बताया कि चंदाघाट पुल पर निर्माण कार्य के बाद लोगों को आवगमन में सुगमता हो रही है। कौड़ीराम गोला स्टेट हाईवे का कार्य कराया,गजपुर गगहा सड़क स्वीकृत करवायी। मेरे संघर्ष का सबसे बड़ा परिणाम सड़कें है।सड़के अच्छी है तो विकास स्वत: होता है। श्री पासवान ने बताया कि एन.एच.-29 के दोनों तरफ औद्योगिक कोरिडोर बनाने की बात भी मुख्यमंत्री जी से चल रही है। इससे लोगों को रोजगार के लिए बाहर नहीं जाना पड़ेगा। युवा जो विदेश चलें जाते हैं उनकी ऊर्जा को अपने क्षेत्र में लगाकर एक नए बांसगांव की कल्पना साकार की जा सकती है। बताया कि स्वास्थ्य के क्षेत्र में भी विकास कार्य हुए हैं। बांसगांव में 100 बेड का स्पेशलिटी हॉस्पिटल शुरू किया गया। गगहा में एनआयीसीयू निर्मित हुआ, कौडीराम, गंभीरपुर, सभी सीएचसी, पीएचसी में और सुधारकार्य किये जा रहे हैं। ताकि क्षेत्र की जनता को इलाज के लिए बाहर न जाना पड़े। बसौलि शिव मंदिर के जीर्णोद्धार के लिए 60 लाख स्वीकृत करवाये। हर प्राथमिक विद्यालय पर फर्निचर,ड्रेस,जूता उपलब्ध कराया गया और अन्य कार्यों में सुधार किया गया। सवाल : डेढ़ साल बाद चुनाव है। किन मुद्दों को लेकर जनता के बीच जाएंगे? उत्तर : हम अपनी उपलब्धियों को लेकर जनता के बीच जाएंगे। जिस क्षेत्र का विकास से कोई नाता नहीं था वहां हमने काम किया। सुशासन की स्थापना की। युवाओं को स्वावलम्बी बनाया। क्षेत्र की जनता की समस्याओं को सुनते हैं और त्वरित निराकरण करते हैं। जनता का मुझ पर और मेरा जनता पर विश्वास है। सवाल : प्रदेश में आपकी पार्टी की सरकार और अन्य पार्टियों की अगुवाई वाली सरकारो में मूलभूत अंतर क्या है? उत्तर : योगी सरकार ने स्वच्छ, ईमानदार, पारदर्शी शासन की स्थापना की। भ्रष्टाचार का सफाया किया। 2017 में जब उत्तर प्रदेश की कमान योगी जी को मिली तो बहुत ही खराब हालत थी। बदहाल, भ्रष्ट और गंदे मानसिकता वाला यूपी मिला था। ऐसा प्रशासक मिला जिसकी जरूरत थी।उत्तर प्रदेश को उत्तम प्रदेश का रुप योगी जी ने दिया। अपराध के प्रति ज़ीरो टोलरेन्स की निति, अच्छी कानून व्यवस्था,आमजन के प्रति सहानभुति ये इस सरकार को अन्य सरकार से अलग करती है। सवाल : अयोध्या में श्रीराम मंदिर निर्माण शुरू है। आगामी विधानसभा चुनाव को कितना प्रभावित करेगा? उत्तर : मंदिर बनना ही था और बना। बीजेपी ही बनवा सकती थी। बीजेपी ने अपने वादे को पूरा किया। लोगों में इसका प्रभाव रहेगा जो कहा वो किया। बीजेपी जो कहती है वो करती है। जनता इसे समझ रही है। हिन्दुस्थान समाचार/पुनीत/आमोद/राजेश-hindusthansamachar.in