छायाचित्र प्रदर्शनी : राजा टोढ़ी के महत्वपूर्ण अभिलेख बढ़ा रहे आकर्षण
छायाचित्र प्रदर्शनी : राजा टोढ़ी के महत्वपूर्ण अभिलेख बढ़ा रहे आकर्षण
देश

छायाचित्र प्रदर्शनी : राजा टोढ़ी के महत्वपूर्ण अभिलेख बढ़ा रहे आकर्षण

news

- महत्वपूर्ण पत्रों में महारानी लक्ष्मीबाई द्वारा राजा मर्दन सिंह को लिखा पत्र भी है शामिल महेश पटैरिया झांसी, 21 नवम्बर (हि.स.)। उत्तर प्रदेश संस्कृति विभाग अन्तर्गत राज्य पुरातत्व निदेशालय की क्षेत्रीय पुरातत्व इकाई (बुन्देलखण्ड क्षेत्र) झांसी, राजकीय संग्रहालय झांसी, इन्टैक झांसी एवं ललितपुर चैप्टर तथा बुन्देलखण्ड इतिहास, पुरातत्व एवं संस्कृति शोध संस्थान झांसी के संयुक्तत्वावधान में विश्व धरोहर सप्ताह का आयोजन किया जा रहा है। यह प्रदर्शनी वीरांगना महारानी लक्ष्मीबाई के जन्मदिन 19 नवम्बर से शुरु होकर 25 नवम्बर तक आयोजित की जा रही है। इस छायाचित्र प्रदर्शनी में राजा टोढ़ी द्वारा उपलब्ध कराए गए महत्वपूर्ण पत्रों को भी दर्शाया गया है। ये पत्र लोगों में आकर्षण का केन्द्र बने हुए हैं। इसकी जानकारी देते हुए राजा टोढ़ी के वंशज राजा भानुप्रताप सिंह जूदेव व राजकुमार मानवेन्द्र सिंह जूदेव ने बताया कि ये पत्र बहुत ही महत्वपूर्ण हैं। इनको राजकीय संग्रहालय को समर्पित करते हुए आमजनमानस के अवलोकन के लिए संरक्षित कर दिया गया है। उन्होंने बताया कि महारानी लक्ष्मीबाई ने युद्ध के समय कालपी से बानपुर के राजा मर्दन सिंह को लिखा था, जिसमें महारानी ने ग्वालियर में अंग्रेजों पर चढ़ाई करने के लिए उनका सहयोग मांगा था। पत्र में तिथि सावन सुदी 14 संवत् 1914 मुकाम कालपी उल्लेखित है। इसके अलावा सम्वत् 1803,1896 व 1918 के महत्वपूर्ण पत्र भी शामिल हैं। इसमें टोढ़ी फतेहपुर रियासत द्वारा ओरछा की रानी लड़ई सरकार को लिखा गया पत्र भी शामिल हैं। हिन्दुस्थान समाचार-hindusthansamachar.in