गुजरात : मुख्यमंत्री ने 'नर्मदा मैया का किया ई-पूजन, सरोवर बांध के ओवरफ्लो होने पर पांच गेट खोले गये
गुजरात : मुख्यमंत्री ने 'नर्मदा मैया का किया ई-पूजन, सरोवर बांध के ओवरफ्लो होने पर पांच गेट खोले गये
देश

गुजरात : मुख्यमंत्री ने 'नर्मदा मैया का किया ई-पूजन, सरोवर बांध के ओवरफ्लो होने पर पांच गेट खोले गये

news

अहमदाबाद, 17 सितम्बर (हि.स.)। प्रधानमंत्री मोदी की 70वीं वर्षगांठ के अवसर पर आज केवडिया में मुख्यमंत्री विजय रूपानी ने आज नर्मदा मैया की ई पूजन किया। इस अवसर पर सरदार सरोवर नर्मदा बांध के पांच गेट भी खोल दिये गये। सरदार सरोवर बांध गुजरात की जीवन रेखा मानी जाती है। इस समय बांध का पानी का जलस्तर उच्चतम स्तर 138.68 मीटर तक पर पहुंच गया है। आज मुख्यमंत्री विजय रूपाणी और उपमुख्यमंत्री नितिन पटेल के मार्गदर्शन में नर्मदा बांध को भरकर राज्य सरकार ने पीएम मोदी को उनके जन्मदिन पर तोहफा दिया है। मुख्यमंत्री विजय रूपानी ने आज सुबह अपने कार्यालय से वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से नर्मदा मैया का ई-पूजन किया। इस मौके पर नर्मदा बांध की विशेष पूजा और नमस्कार किया जाता है। इसी बीच बांध के पांच गेट पानी के ओवरफ्लो के कारण खोल दिये गए। नर्मदा पूजन के मौके पर नर्मदा विकास मंत्री योगेश पटेल और नर्मदा निगम के सीएमडी डॉ. राजीव गुप्ता भी सरदार सरोवर नर्मदा बांध पर मौजूद थे। बांध के ओवरफ्लो से यह निश्चित हो गया है कि अगले दो वर्षों तक गुजरात में पीने और सिंचाई के लिए पानी की कोई समस्या नहीं होगी। सरोवर बांध में पानी की आवक 99630 क्यूसेक और बहिर्वाह 34540 क्यूसेक है। 34766 क्यूसेक पानी नर्मदा नदी में छोड जा रही है, जिसमें बिजली घर की छह यूनिट लगातार चल रही है। 13500 क्यूसेक पानी मुख्य नहर में डाला जा रहा है। उल्लेखनीय है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 17 सितम्बर, 2017 को सरदार सरोवर नर्मदा बांध का उद्घाटन किया था, उस समय भी बांध का जलस्तर 138.68 मीटर तक था। हिन्दुस्तान समाचार/हर्ष/पारस-hindusthansamachar.in