गुजराज :  सरकार की रियायतें और लोगों की लापरवाही भारी पड़ी, दूसरी लहर के बीच 24 घंटे में 1125 नए मामले
गुजराज : सरकार की रियायतें और लोगों की लापरवाही भारी पड़ी, दूसरी लहर के बीच 24 घंटे में 1125 नए मामले
देश

गुजराज : सरकार की रियायतें और लोगों की लापरवाही भारी पड़ी, दूसरी लहर के बीच 24 घंटे में 1125 नए मामले

news

- गुजरात सहित कई शहरों में दूसरी लहर, सतर्कता की कमी के कारण मामलों में वृद्धि हुई अहमदाबाद, 18 नवम्बर (हि.स.)। दिवाली के बाद नया साल शुरू होता है। हर कोई एक-दूसरे को नव वर्ष की शुभकामनाएं दे रहा है कि आपका नया साल खुशहाल और स्वस्थ हो। लेकिन नए साल की शुरुआत से ही अहमदाबाद में कोरोनो संक्रमण के मामले बढ़ रहे हैं। चिकित्सक भी कह रहे हैं कि लोगों की लापरवाही आज उन्हें परेशान कर रही है। राज्य में 17 नवम्बर 2020 के कोरोना संक्रमण के कुल 1125 नए मामले सामने आए हैं। अहमदाबाद सिविल अस्पताल अधीक्षक और मानद अधिकारी विशेष सिविल अस्पताल के डॉ. एमएम प्रभाकर ने कहा कि लोगों ने सरकार द्वारा दी गई रियायतों का दुरुपयोग किया है। मौजूदा स्थिति और सामाजिक दूरी की कमी में मास्क अनिवार्य हैं। संक्रमण को बढ़ाने में कोरोना एक बड़ी भूमिका निभा रहा है। डॉ. प्रभाकर कहते हैं कि मई-जून में स्थिति बहुत गंभीर थी। उन्होंने कहाकि अभी ऐसी स्थिति नहीं है लेकिन यह स्थिति समीप आ रही है। तालाबंदी के बाद बस सेवा, ट्रेन सेवा, हवाई सेवा शुरू हो गई है। लोग स्थानीय परिवहन का उपयोग कर रहे हैं जिससे संक्रमण के मामले बढ़ रहे हैं। मंदिर खुल गए हैं जिसका यह असर हो रहा है। 1200 बेड के सिविल अस्पताल में गंभीर मरीजों को यहां रेफर किया जाता है। 170 वेंटीलेटर, आईसीयू बेड भरे पड़े हैं। अहमदाबाद अस्पताल और नर्सिंग होम्स एसोसिएशन के अध्यक्ष डॉ भरत गढ़वी ने एक गंभीर संकेत दिया है कि वर्तमान में निजी अस्पताल 90 प्रतिशत भरे हुए हैं। लोगों ने नियम का पालन नहीं किया है जिसके कारण यह स्थिति पैदा हुई है। लोगों की लापरवाही आज उन्हें आहत कर रही है। राज्य में 17 नवम्बर 2020 तक कोरोना संक्रमण के कुल 1125 नए मामले सामने आए हैं। 24 घंटे में राज्य के 1116 मरीजों की कोरोना से ठीक हो गए जबकि आज राज्य के विभिन्न शहरों में 07 रोगियों की मृत्यु हो गई है। कोरोना संक्रमण के बीच आज राज्य में 47,328 रोगियों का परीक्षण किया गया। राज्य में अब तक कुल 1,90,361 मामले सामने आए हैं। राज्य में त्योहारों के बीच कोरोना के मामलों में वृद्धि हुई है। राज्य में कोरोना और अस्पतालों की स्थिति अहमदाबाद सिविल अस्पताल अधीक्षक डा. प्रभाकर ने बताया कि राज्य में कोरोना संक्रमण की एक और लहर है। आज अहमदाबाद जिले में 234 मामले सामने आए हैं जबकि सूरत में 180, राजकोट में 92, वडोदरा में 133, मेहसाणा में 60, बनासकांठा में 52, सुरेन्द्रनगर में 45, गांधीनगर में 58, पटना में 34, महिसागर में 25, कच्छ में 23, आनद में 23 और जामनगर में 18 मामले दर्ज किए गए हैं। भरूच में 16, पंचमहल में 15, साबरकांठा में 14, खेड़ा में 12, मोरबी में 12, अमरेली में 11, जूनागढ़ में 11, गीरसोमनाथ में 06, अरावली में 05, भावनगर में 07, छोटूदेपुर में 04, बोताड़ा में 04, देवभूमि द्वारका- नवसारी में 03-03 मामले दर्ज किए गए हैं। अहमदाबाद शहर सबसे चिंताजनक स्थिति में है। शहर के नब्बे प्रतिशत अस्पताल के बिस्तर हाउसफुल हैं। हिदुस्थान समाचार/हर्ष/पारस/रामानुज-hindusthansamachar.in