कोरोना मरीजों के इलाज में काम आने वाली दवा ‘फेविपिर’ को बाजार में लॉन्‍च, जानें कीमत
कोरोना मरीजों के इलाज में काम आने वाली दवा ‘फेविपिर’ को बाजार में लॉन्‍च, जानें कीमत
देश

कोरोना मरीजों के इलाज में काम आने वाली दवा ‘फेविपिर’ को बाजार में लॉन्‍च, जानें कीमत

news

दवा निर्माता कंपनी हेटोरो ने बुधवार को बताया कि उसने कोरोना के इलाज के लिए ‘फेविपिर’ (Favipiravir) नाम की गोली बाजार में उतारी है जिसकी कीमत प्रति गोली 59 रुपए है। यह गोली हल्के और मध्यम तीव्रता के कोरोना पीडि़तों के इलाज में कारगर होगी। हेटोरो ने अपने एक बयान में बताया कि भारत के औषधि महानियंत्रक (Drug Controller General of India, DCGI) ने कंपनी को फेविपिराविर दवा बनाने और उसकी मार्केटिंग की अनुमति दी है। कंपनी ने भारत में इसे फेविपिर नाम से बाजार में उतारा है। कंपनी इससे पहले कोरोना के इलाज के लिए कोविफोर (रेमडेसिविर) को लांच कर चुकी है। क्लीनिकल परीक्षण में इस दवा के सकारात्मक परिणाम सामने आए हैं। उम्मीद है इस दवा से मरीजों को बहुत लाभ सकेगा। इस दवा की मार्केटिंग और डिस्ट्रीब्यूशन हेटोरो हेल्थकेयर लिमिटेड करेगी। यह दवा बुधवार से ही सारे देश में खुदरा दवा दुकानों पर उपलब्ध करा दी गई है। दवा खरीदने के लिए डाक्टर का पर्चा दिखाना होगा। कंपनी ने यह दवा देश में ही बनाई है। इसके निर्माण में अंतरराष्ट्रीय मानकों का पूरा पालन किया गया है। उधर कोरोना संक्रमण के प्रसार को रोकने के लिए वैक्सीन विकसित करने का काम पूरी दुनिया में तेजी पर है। कोविड-19 की रोकथाम के लिए अमेरिकी जैव प्रौद्योगिकी कंपनी मॉडर्ना द्वारा विकसित टीका बंदरों में संक्रमण को रोकने में प्रभावी पाया गया है। एमआरएनए-1273 नाम का यह टीका मॉडर्ना और अमेरिका के नेशनल इंस्टिट्यूट ऑफ एलर्जी एंड इन्फेक्शस डिसीज के वैज्ञानिकों ने मिलकर बनाया है। ट्रायल के नतीजे न्यू इंग्लैंड जर्नल ऑफ मेडिसिन में प्रकाशित हुए हैं। वैज्ञानिकों ने कहा कि टीका मिलने के बाद बंदरों में वायरस को नियंत्रित करने वाली एंटीबॉडी पैदा हुईं।-newsindialive.in