केंद्रीय टीम ने बिहार को दी चेतावनी, कोरोना से बढ़ सकती है मृत्यु दर
केंद्रीय टीम ने बिहार को दी चेतावनी, कोरोना से बढ़ सकती है मृत्यु दर
देश

केंद्रीय टीम ने बिहार को दी चेतावनी, कोरोना से बढ़ सकती है मृत्यु दर

news

- कम परीक्षण के कारण राज्य में बढ़ सकता है कोरोना संक्रमण राजीव मिश्रा पटना, 23 जुलाई (हि.स.)। कोरोना संक्रमण की अप्रत्याशित वृद्धि का जायजा लेने दो दिवसीय (19 और 20 जुलाई) दौरे पर आई तीन सदस्यीय केद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय की टीम ने अंदेशा जताया है कि कम परीक्षण के कारण बिहार में कोरोना वायरस का संक्रमण बढ़ सकता है। साथ ही चेतावनी दी है कि देर से मरीजों की पहचान और अस्पतालों पहुंचने के कारण मृत्यु दर भी बढ़ सकती है। हालांकि अभी राज्य में मृत्यु दर देश में सबसे कम है। केंद्रीय स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय के संयुक्त सचिव लव अग्रवाल के नेतृत्व वाली टीम में नेशनल सेंटर फॉर डिजीज कंट्रोल के निदेशक डॉ. एसके सिंह और एम्स दिल्ली के एसोसिएट प्रोफेसर डॉ. नीरज निश्चल शामिल थे। उल्लेखनीय है कि बिहार में पिछले 11 दिनों से प्रतिदिन 1000 से अधिक मामले सामने आ रहे हैं। किसी-किसी दिन यह आंकड़े लगभग पौने दो हजार तक पहुंच चुका है।केंद्रीय टीम ने कहा कि पूर्वी चंपारण, गया, रोहतास और मुजफ्फरपुर कोरोना के लिए उभरते हॉटस्पॉट बन रहे हैं। इसके अलावा पटना, नालंदा, नवादा, सीवान, पश्चिम चंपारण, जमुई, भागलपुर, बेगूसराय और मुंगेर पर विशेष ध्यान देने की जरूरत है क्योंकि यहां लगातार मामले बढ़ रहे हैं। टीम ने राज्य में अस्पताल के बुनियादी ढांचे और वॉलेंटियर्स बढ़ाने के साथ ही कोविड अस्पतालों की संख्या बढ़ाने का सुझाव दिया है। हिन्दुस्थान समाचार-hindusthansamachar.in