किसानों की मदद के लिए के लिए केंद्र सरकार के तीन विधेयकों का विरोध कर रही है कांग्रेसः नड्डा
किसानों की मदद के लिए के लिए केंद्र सरकार के तीन विधेयकों का विरोध कर रही है कांग्रेसः नड्डा

किसानों की मदद के लिए के लिए केंद्र सरकार के तीन विधेयकों का विरोध कर रही है कांग्रेसः नड्डा

नई दिल्ली, 16 सितम्बर (हि.स.)। भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) अध्यक्ष जेपी नड्डा ने बुधवार को कहा कि किसानों की मदद के लिए संसद में तीन विधेयक पारित होने जा रहे हैं। ये विधेयक किसानों के उत्पाद बेचने में मददगार साबित होंगे किंतु विपक्षी पार्टी कांग्रेस पार्टी इन विधेयकों का विरोध कर रही है। नड्डा ने यहां भाजपा मुख्यालय में आयोजित संवाददाता सम्मेलन में कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने अपने प्रथम और द्वितीय कार्यकाल में हमेशा किसान, गरीब, मजदूर, वंचित और शोषित वर्ग के लोगों को मुख्यधारा में लाने और उन्हें सशक्त बनाने के लिए ऐसे कार्यक्रम और नियम बनाएं हैं। इसी क्रम में किसानों को दृष्टि में रखते हुए तीन विधेयक आए हैं। इन तीनों विधेयकों पर लोकसभा व राज्यसभा में चर्चा होनी है, जिसमें से आवश्यक वस्तु (संशोधन) विधेयक-2020 गत मंगलवार को लोकसभा में चर्चा के बाद पारित कर दिया गया। जबकि कृषि उपज व्यापार और वाणिज्य (संवर्द्धन और सुविधा) विधेयक-2020, कृषक (सशक्तिकरण एवं संरक्षण) कीमत आश्वासन और कृषि सेवा पर करार विधेयक-2020 पर दोनों सदनों में चर्चा होनी है। भाजपा अध्यक्ष ने कहा कि ये तीनों विधेयक जिन पर अभी लोकसभा और राज्यसभा में चर्चा हो रही है, ये बहुत दूर दृष्टि रखते हैं। उन्होंने कहा कि कृषि क्षेत्र में निवेश को बढ़ाने में ये तीनों बिल बहुत महत्वपूर्ण और लाभकारी हैं। इसके साथ ही किसानों के उत्पाद का दाम बहुत तीव्र गति से आगे बढ़ाने वाले ये तीनों बिल रहने वाले हैं। नड्डा ने विपक्षी कांग्रेस पर निशाना साधते हुए कहा कि कांग्रेस पार्टी इन बिलों का विरोध कर रही है। कांग्रेस का यह दोहरा चेहरा है, ये हमेशा हर काम में राजनीति करती रही है और उसे सिवाय राजनीति के और कुछ नहीं आता है। उल्लेखनीय है कि आवश्यक वस्तु (संशोधन) विधेयक-2020 को गत मंगलवार को लोकसभा ने मंजूरी दे दी। यह विधेयक अनाज, दलहन, तिलहन, खाद्य तेल, प्याज और आलू को आवश्यक वस्तुओं की सूची से हटाने का प्रावधान करता है। हिन्दुस्थान समाचार/अजीत/बच्चन-hindusthansamachar.in

Last updated