कार्बन उत्सर्जन कम करने के लक्ष्य से अधिक उपलब्धि हासिल करेगा भारत: प्रधानमंत्री मोदी
कार्बन उत्सर्जन कम करने के लक्ष्य से अधिक उपलब्धि हासिल करेगा भारत: प्रधानमंत्री मोदी
देश

कार्बन उत्सर्जन कम करने के लक्ष्य से अधिक उपलब्धि हासिल करेगा भारत: प्रधानमंत्री मोदी

news

नई दिल्ली, 12 दिसम्बर (हि.स.)। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शनिवार को कहा कि जलवायु परिवर्तन पर पेरिस समझौते के तहत कार्बन उत्सर्जन के निर्धारित लक्ष्यों को पूरा करने के मार्ग पर भारत तत्परता से आगे बढ़ रहा है तथा वह इनसे आगे पहुंचेगा। मोदी ने जलवायु परिवर्तन संबंधी महत्वकांक्षी शिखर वार्ता को वीडियो लिंक के जरिए संबोधित करते हुए कहा कि भारत ने कार्बन उत्सर्जन की मात्रा को वर्ष 2005 के स्तर से 21 प्रतिशत तक कम किया है। सौर ऊर्जा के क्षेत्र में देश ने वर्ष 2014 के 2.63 गीगावॉट के उत्पादन से आगे बढ़ते हुए वर्ष 2020 में 36 गीगावॉट विद्युत उत्पादन किया। अक्षय ऊर्जा की क्षमता वाला भारत दुनिया का चौथा बड़ा देश है तथा 2022 तक 175 गिरावट विद्युत उत्पादन का लक्ष्य हासिल कर लेगा। भारत ने वर्ष 2030 तक 450 गीगावॉट विद्युत उत्पादन का महत्वकांक्षी लक्ष्य अपने सामने रखा है। भारत ने वन क्षेत्र के विकास तथा जैव विविधता के संरक्षण के काम में भी सफलता हासिल की है। प्रधानमंत्री ने कहा कि अंतरराष्ट्रीय स्तर पर भारत ने दो महत्वपूर्ण पहल की हैं। इसमें विश्व बिरादरी के सामने अंतरराष्ट्रीय सौर गठबंधन और आपदा का सामना करने में सक्षम आधारभूत ढांचे के निर्माण संबंधित गठबंधन की पहल है। प्रधानमंत्री ने भारत की स्वतंत्रता के शताब्दी वर्ष 2047 के लिए भारत के जलवायु परिवर्तन संबंधी लक्ष्यों की भी चर्चा की। उन्होंने विश्वास व्यक्त किया कि भारत विश्व समुदाय की अपेक्षाओं से अधिक योगदान करेगा। उन्होंने कहा कि हम आज पेरिस समझौते की पांचवी वर्षगांठ मना रहे हैं। हमें जलवायु परिवर्तन की समस्या का समाधान करने के लिए अपने सामने और भी ऊंचे लक्ष्य रखने चाहिए। हमें अब तक की अपनी उपलब्धियों का आकलन भी करना चाहिए। हिन्दुस्थान समाचार/अनूप-hindusthansamachar.in

AD
AD